बांग्लादेश में सूफी संत की गोली मारकर हत्या

ढाका (14 मार्च): बांग्लादेश के दीनाजपुर में 55 साल के सूफी संत फरहद हुसैन चौधरी और उनकी किशोर नौकरानी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। सरेआम हुई हत्या की इस वारदात से इलाके के लोग सकते में हैं। बताया जा रहा है कि अज्ञात हथियारबंद बदमाशों हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया। सुन्नी बहुल बांग्लादेश में अल्पसंख्यक सूफी मुस्लिम समुदाय पर यह ताजा हमला है। हाल ही में बांग्लादेश में लेखकों और अल्पसंख्यक समुदायों पर हमले बढ़े हैं।

फिलहाल हत्यारे की पहचान नहीं हो पाई है। हालांकि पुलिस ने इस घटना में इस्लामिक आतंकवादियों से कोई संबंध होने से इंकार किया है। इस हमले की अभी तक किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है। हालांकि दक्षिण एशियाई देश में पिछले कई वर्षों के दौरान किए गए हमले में 16 करोड़ लोग निशाना बनाये गए थे। जिसकी जिम्मेदारी अलकायदा और इस्लामिक स्टेट ने ली थी लेकिन सरकार स्थानीय आतंकवादी समूहों के शामिल होने का आरोप लगाया है।