जबरन छुट्टी पर भेजे गए बांग्लादेश के पहले हिंदू मुख्य न्यायाधीश

ढाका (14 अक्टूबर): बांग्लादेश के पहले हिन्दू मुख्य न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार सिन्हा को जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि मुख्य न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार सिन्हा को शेख हसीना सरकार के साथ टकराव का खामियाजा भुगतना पड़ा और उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया है। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के जजों पर महाभियोग के संसद के अधिकार को खत्म करने के उनके फैसले से सरकार नाराज थी।

अपन हटाए जाने की खबरों के बीच सुरेंद्र कुमार सिन्हा शुक्रवार रात आस्ट्रेलिया रवाना हो गए। इससे पहले उन्होंने कहा कि जुलाई में दिए गए फैसले को लेकर विवाद से वह परेशान हैं। उन्होंने कहा कि मैं न्यायपालिका का अभिभावक हूं। न्यायपालिका के हित में अस्थायी रूप से जा रहा हूं ताकि इसकी छवि खराब न हो। मैं वापस आऊंगा।

साथ सिन्हा ने कहा कि उनका मानना है कि सरकार को फैसले के गलत मायने बताए गए जिससे प्रधानमंत्री शेख हसीना नाराज हैं। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि वह जल्द ही सच्चाई को महसूस करेंगी। सिन्हा का कार्यकाल जनवरी 2018 में पूरा होगा। सरकार ने बीमारी को लेकर तीन अक्टूबर से एक महीने की उनकी छुट्टी को घोषणा की थी।