3 लाख से ऊपर कैश लेनदेन पर हो बैन, 15 लाख से अधिक नहीं रखे कोई नकदी : SIT

नई दिल्ली (14 जुलाई) :  काले धन पर लगाम के लिए  विशेष जांच दल (एसआईटी) ने अहम सुझाव दिए हैं। इन सुझावों में  तीन लाख रुपए से ज्यादा के सभी कैश लेनदेन को ‘पूरी तरह’ प्रतिबंधित करना शामिल है।  इस तरह के लेनदेन को अवैध और संज्ञेय बनाने के लिए अलग क़ानून  का सुझाव भी दिया गया है।

एक और अहम सिफारिश  में एसआईटी ने कैश रखने की अधिकतम सीमा 15 लाख तय करने के लिए कहा है।

एसआईटी ने उच्चतम न्यायालय में सौंपी अपनी पांचवीं रिपोर्ट में कहा है कि बड़ी मात्रा में अघोषित संपत्ति नकद में रखी और ली-दी जाती है। एसआईटी ने  कहा है कि लेनदेन की तीन लाख रुपए की सीमा संबंधी प्रावधान तभी सफल हो सकता है जब नगदी रखने की सीमा तय हो। इसलिए, उसने नगदी रखने की सीमा 15 लाख रुपए तय करने की सिफारिश की है।