बाॅल टैपरिंग: वॉर्नर, स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट की जगह लेंगे मैक्सवेल, बर्न्स और रेनशॉ

नई दिल्ली ( 27 मार्च ):  बाॅल टैपरिंग विवाद में क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने बड़ी कार्रवाई की है। वॉर्नर, स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट को साउथ अफ्रीका छोड़ने का आदेश दिया है। इस मामले में क्रि‍केट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने संवाददाता सम्मेलन करके जानकारी दी। जेम्स सदरलैंड ने शुरुआत में इस विवाद के लिए माफी मांगी। 

जेम्स सदरलैंड ने कहा कि इस मामले में क्र‍िकेट ऑस्ट्रेलिया और आईसीसी की तरफ से जांच की गई। जांच पूरी नहीं हुई है, हालांकि शुरुआती जांच से पता चला है कि पूरी साजिश वॉर्नर और कैमरन बैनक्रॉफ्ट की ओर से रची गई।

 क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने फिलहाल इस मामले में शामिल तीनों खिलाड़ियों स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्रॉफ्ट को सस्पेंड कर उन्हें स्वदेश लौटने का फरमान सुना दिया है। दूसरी तरफ कोच डैरेन लेहमन को इस मामले में क्लीन चिट दे दी गई है।

सदरलैंड ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच डैरेन लीमैन को कोच पद से नहीं हटाया गया है। वे कॉन्ट्रेक्ट खत्म होने तक कोच बने रहेंगे। टिम पेन को स्टीव स्मिथ की जगह कप्तान बनाया गया है। स्म‍िथ, वॉर्नर, बैनक्रॉफ्ट को सीरीज से बाहर कर वापस ऑस्ट्रेलिया भेजा जा रहा है। तीनों की सजा पर 24 घंटे में फैसला लिया जाएगा। वॉर्नर, स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट की जगह मैक्सवेल, बर्न्स और रेनशॉ लेंगे। 

मीडिया से बातचीत के दौरान सदरलैंड ने कहा कि स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्रॉफ्ट को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के कोड ऑफ कंडक्ट 2.3.5 के उलंघन का दोषी पाया है। जांच पूरी होने तक इन्हें सस्पेंड किया जा रहा है।' 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के CEO जेम्स सदरलैंड ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि तीनों खिलाड़ियों पर अगले 24 घंटे में अंतिम निर्णय ले लिया जाएगा। विकेटकीपर बल्लेबाज टिम पेन को टीम की कमान सौंपी गई है।