बॉल टैंपरिंग मामले में चंडीमल पर बैन बरकरार

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 जून): दूसरे टेस्ट मैच में बॉल टैंपरिंग को लेकर दोषी पाए गए श्री लंका के कैप्टन दिनेश चंडीमल वेस्ट इंडीज के खिलाफ तीसरे टेस्ट में नहीं खेल पाएंगे। आपको बता दें कि आईसीसी ने उन्हें एक मैच के लिए बैन करने का अपना फैसला बरकरार रखा है जिसके खिलाफ चंडीमल ने अपील की थी। चंडीमल की अपील को आईसीसी ने खारिज कर दिया और उनका बैन बरकरार रखा।आपको बता दें कि आईसीसी ने एक बयान जारी कर कहा, जुडिशल कमिश्नर माइकल बेलोफ ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में श्री लंका के कैप्टन दिनेश चंडीमल को बॉल टैंपरिंग का दोषी मानते हुए उनकी अपील को खारिज कर दिया है। आईसीसी मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ ने चंडीमल को सजा के तौर पर दो सस्पेंशन पॉइंट्स दिए थे जो एक टेस्ट या 2 वनडे अथवा 2 टी20 से प्रतिबंध के बराबर होता है। उन पर मैच फीस का 100 प्रतिशत जुर्माना भी लगा।इससे पहले टीम प्रबंधन ने खेल भावना के विपरीत आचरण के आईसीसी के आरोप को स्वीकार कर लिया। कोच चंदिका हाथुरुसिंघे और मैनेजर असांका गुरुसिंघा ने दूसरे टेस्ट में टीम के मैदान पर उतरने से इनकार में अपनी भूमिका को स्वीकार किया जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें मामले से बरी किया।बता दें कि दूसरे टेस्ट के दौरान आईसीसी ने गेंद से छेड़छाड़ का दोषी चंडीमल को पाया और विडियो सबूत में भी दिखा कि उन्होंने अपने मुंह में मीठी चीज (जो मिठाई लग रही थी) खाने के तुरंत बाद थूक गेंद पर लगा दिया। चंडीमल, कोच हाथुरुसिंघे और मैनेजर गुरुसिंघा को आईसीसी सीईओ डेविड रिचर्ड्सन ने आरोपी बताया था।