बहरीन के नजरबंद शिया धर्मगुरु ईसा क़ासिम की हालत नाजुक

नई दिल्ली(1 दिसंबर): बहरीन के शिया धर्मगुरु शैख़ ईसा क़ासिम की सेहत खराब हो गई है। बहरीन की राष्ट्रीय अलवेफ़ाक़ पार्टी ने ईसा क़ासिम की शारीरिक स्थिति को ख़तरनाक बताया है। अलवेफ़ाक़ पार्टी के एक वरिष्ठ सदस्य फिरोज ने बताया कि शिया धर्मगुरु शैख़ ईसा क़ासिम की शारीरिक स्थिति नज़रबंदी के कारण ख़तरनाक हद तक पहुंच चुकी है और उनकी जान को गंभीर ख़तरा है। जबकि बहरीन की ज़ालिम व जाबिर और अमेरिका समर्थक आले खलीफा सरकार उन्हें अस्पताल ले जाने की अनुमति नहीं दे रही है।

ग़ौरतलब है कि बहरीन के आले ख़लीफ़ा सरकार ने शेख ईसा कासिम को घर में नजरबंद कर रखा है और घर में उनकी हालत चिंताजनक है उन्हें चिकित्सा सुविधा से भी वंचित रखा है। 23 मई को दिराज़ इलाक़े में शैख़ ईसा क़ासिम के घर के सामने शांतिपूर्ण धरने पर बैठे लोगों पर हमला किया, जिसमें 6 लोग शहीद हुए।

आले ख़लीफ़ा के सुरक्षा बल ने दिराज़ के हैदरिया मोहल्ले में शैख़ ईसा क़ासिम के घर की नाकाबंदी कर रखी है। आले ख़लीफ़ा शासन ने शैख़ ईसा क़ासिम को 1 साल जेल और संपत्ति को ज़ब्त करने का आदेश दिया है।

इस्लामी जागरूकता के आरंभ होने के बाद से बहरैन में 14 फ़रवरी 2011 से आले खलीफ़ा शासन की दमनात्मक और पाश्विक कार्यवाहियों के विरुद्ध तथा देश में लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पक्ष में निरंतर प्रदर्शन हो रहे हैं।