फाइटर प्लेन 'तेजस' में उड़ान भरने वाली पहली महिला बनीं पीवी सिंधु


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 फरवरी): भारतीय बैडमिंटन स्‍टार पीवी सिंधु ने बेंगलुरु में चल रहे 'एयरो इंडिया 2019' के चौथे दिन लड़ाकू विमान 'तेजस' में उड़ान भरने के साथ ही भारत की पहली महिला सह-पायलट बन गई। एयरो इंडिया इस शो के चौथे दिन को उड्डयन क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी के तौर पर मना रहा है। सिंधु तेजस में उड़ान भरने वाली पहली महिला यात्री बन गई हैं।


आपको बता दें कि अब तक इस विमान में किसी महिला ने उड़ान नहीं भरी है। हालांकि यह इस कारण संभव हुआ है, क्‍योंकि एयरो इंडिया का चौथा दिन महिला दिवस के तौर मनाया जा रहा है. वैसे अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को मनाया जाता है। सिंधु ने यलहंका एयरफोर्स बेस से उड़ान भरी है. इसके लिए पहले ही सभी तैयारियां कर ली गई थीं। अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स भी शनिवार को ही तेजस में उड़ान भरेंगी। 




वैसे सिंधु से पहले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत एयरो इंडिया 2019 में तेजस से उड़ान भर चुके हैं। उन्‍होंने तेजस के दो सीटर ट्रेनिंग विमान में पायलट के पीछे बैठकर आसमान में एक चक्कर लगाया। वरावत से पहले वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल बीएस धनोआ, केंद्र सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार पीएस विजय राघवन, महानिदेशक (अधिकग्रहण) अपूर्व चंद्रा और वायुसेना के सह प्रमुख एयर वाइस मार्शल बीआर कृष्‍णा भी एयरो इंडिया 2019 में तेजस में उड़ान भर चुके हैं। 


तेजस को बुधवार सुबह सैन्य उड्डयन नियामक सेमिलाक की तरफ से फाइनल ऑपरेशन क्लियरेंस (एफओसी) दी गई। इसके बाद अब तेजस हथियारबंद फाइटर जेट के तौर पर एयरफोर्स से जुड़ जाएगा। सेमिलाक के चीफ एग्जीक्यूटिव पी जयपाल ने इसका सर्टिफिकेट और सेवा के लिए भेजे जाने के दस्तावेज एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ को दिए। इस मौके पर धनोआ ने कहा कि यह एयरफोर्स के लिए एक अहम पड़ाव है। यह एयरक्राफ्ट पहले ही अपनी मारक क्षमता का प्रदर्शन कर चुका है। 16 फरवरी को राजस्थान के पोकरण में एयरफोर्स की ‘वायुशक्ति’ ड्रिल में तेजस ने हवा से जमीन और हवा से हवा में मार करने की क्षमता दिखाई थी।