Blog single photo

कोलकाताः जादवपुर यूनिवर्सिटी में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की

पश्चिम बंगाल के प्रसिद्ध जादवपुर यूनिवर्सिटी में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की की खबर है। बताया जा रहा है कि छात्रों के एक गुट ने पहले बाबुल सुप्रियो का विरोध किया और फिर उनके साथ धक्का-मुक्की भी की

Babul 

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 सितंबर): पश्चिम बंगाल के प्रसिद्ध जादवपुर यूनिवर्सिटी में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की की खबर है। बताया जा रहा है कि छात्रों के एक गुट ने पहले बाबुल सुप्रियो का विरोध किया और फिर उनके साथ धक्का-मुक्की भी की। इस धक्का-मुक्की में केंद्रीय मंत्री जमीन पर गिर पड़े। उनका कुर्ता फाड़ दिया गया। उनके अंगरक्षकों पर भी हमला किया गया। हमले में जादवपुर विश्वविद्यालय के कुलपति सुरंजन दास भी घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने पूरे मामले पर कुलपति से रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने मुख्य सचिव से पूरे मामले की जानकारी मांगी है। राज्यपाल व विश्वविद्यालय के आचार्य धनखड़ विश्वविद्यालय परिसर में पहुंचे और केंद्रीय मंत्री को छात्रों के घेराव से बाहर निकाला।

वहीं भारी सुरक्षा के बीच सेमिनार में शिरकत करने वाले सुप्रियो ने कैंपस में संवाददाताओं से कहा कि 'मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं। विश्वविद्यालय के कुछ छात्रों के व्यवहार से दुखी हूं, जिस तरह उन्होंने मेरा घेराव किया । उन्होंने मेरे बाल खींचे और मुझे धक्का दिया।' साथ ही उन्होंने ने कहा कि, 'ये कुछ भी करले उकसा मुझे पाएंगे नहीं। लोकतंत्र को जीवंत बनाए रखने में विपक्ष की भूमिका सत्ताधारी दल की तरह ही काफी अहम है। मतभेदों को धैर्यपूर्वक सुनना भी आवश्यक है. इस तरह का व्यवहार अनुचित तथा निन्दनीय है।'

वहीं यूनिवर्सिटी पहुंचे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकड़ का भी छात्रों ने घेराव किया। राज्यपाल के प्रेस सचिव ने कहा कि छात्रों के एक वर्ग ने इससे पहले केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का घेराव किया। इस मामले को राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गंभीरता से लिया। उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से बात की है और उचित कदम उठाने को कहा। राज्यपाल ने राज्य की सीएम ममता बनर्जी से भी फोन पर बात की है। ताजा जानकारी के मुताबिक, यूनिवर्सिटी में फंसे बाबुल सुप्रियो को राज्यपाल अपने साथ ले गए।

Babul

सुप्रियो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) द्वारा आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करने के लिए विश्वविद्यालय आए थे। मंत्री अभी कैंपस में ही रुके हैं, क्योंकि प्रदर्शनकारी छात्रों ने उनकी कार का रास्ता रोक दिया। धनखड़ ने कहा कि जादवपुर विश्वविद्यालय में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो और अन्य का घेराव किया जाना गंभीर मामला है। राजभवन सूत्रों ने बताया कि धनखड़ ने राज्य के मुख्य सचिव मलय डे से बात की और जादवपुर विश्वविद्यालय में हालात पर काबू के लिए तुरंत कदम उठाने को कहा। मुख्य सचिव ने त्वरित कदम के बारे में आश्वस्त किया और संकेत दिया कि इस संबंध में शहर के पुलिस आयुक्त को शुरुआती निर्देश दे दिए गए हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top