इस बोल्ड फिल्म पर सेंसर बोर्ड ने लगाए 51 कट, प्रोड्यूसर बेफिक्र

नई दिल्ली (13 जून) :  सेंसर बोर्ड (केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड) ने अपकमिंग फिल्म 'बाबूजी एक टिकट बंबई'  में 51 कट्स लगाने के लिए कहा है। इस फिल्म का थीम 'सेक्स वर्कर्स'  पर है। 51 कट्स के बावजूद फिल्म के प्रोड्यूसर के के मूंधड़ा विचलित नहीं हैं। हरि कृपा फिल्म्स के बैनर तले बनी इस फिल्म के बारे में प्रोड्यूसर मूंधड़ा ने कहा, "आम बोलचाल में बोले जाने वाले शब्दों को म्यूट कर दिया गया है। हमने सेंसर बोर्ड के निर्देशों का पालन किया है। हमें ऐसा लग रहा था कि फिल्म के नाम में 'बंबई' शब्द पर ऐतराज़ किया जाएगा। लेकिन फिल्म के टाइटल पर कोई समस्या नहीं हुई और इसे पास कर दिया गया।"

'बॉम्बे टाइम्स' की रिपोर्ट के मुताबिक इस फिल्म में राजपाल यादव ने अहम रोल निभाया है। राजपाल ने इस फिल्म पर कहा, टीवी और वेब से कंपीटिशन बढ़ने की वजह से फिल्मकार अब पूरी कोशिश कर रहे हैं कि वो ऐसा प्रोडक्ट बनाएं जो बेस्ट से बेस्ट रिज़ल्ट दे। इस चक्कर में वो चीज़ों को दिखाने के उत्साह में हद से आगे निकल जाते हैं। हालांकि हमारे संविधान में निहित अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता अश्लीलता या किसी को ऐसी बात कहने की इजाज़त नहीं देती जो देश के सामाजिक और नैतिक ताने-बाने को चुनौती पेश करे।

फिल्म की कास्ट में शामिल एक्ट्रेस सुधा चंद्रन ने कहा, "हमारे देश में सेंसरशिप अहम है क्योंकि सिनेमा अन्य माध्यमों की तुलना में लोगों का ज़्यादा ध्यान खींचता है। स्वनियमन के साथ सेंसरशिप ना सिर्फ वांछित है बल्कि आवश्यक है। हालांकि मैं समझती हूं कि ए, यूए या यू सर्टिफिकेशन से निर्माताओं पर बड़ा वित्तीय असर पड़ता है।"

देखिए फिल्म का ट्रेलर-

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=i0sQ1o0YjC4[/embed]