बाबरी मस्जिद विध्वंस केस पर चर्चा के लिए जोशी के घर अहम बैठक

नई दिल्ली (20 अप्रैल): सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस में कथित भूमिका को लेकर लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती सहित 13 नेताओं पर आपराधिक षडयंत्र का मामला चलाने का आदेश दिया है। इस आदेश के बाद बीजेपी और वीएचपी के नेताओं ने अपनी अगली रणनीति पर मंथन तेज कर दी है। इसी कड़ी में बुधवार को जहां मुरली मनोहर जोशी ने लालकृष्ण अडवाणी से मुलाकात कर घंटों चर्चा की वहीं आज मुरली मनोहर जोशी के दिल्ली स्थित घर पर बीजेपी नेता साध्वी ऋतंभरा  वीएचपी के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री चंपत राय और दिनेश चंद्र त्यागी ने बैठक की।


घंटे भर चली इस बैठक में इन नेताओं ने वकीलों के साथ सलाह-मशविरा किया कि अब आगे क्या किया जाए। बैठक के बाद साध्वी ऋतंभरा ने कहा कि वे लोग मुरली मनोहर जोशी का यहां कानूनी सलाह-मशविरा करने के लिए जुटे थे। हालांकि इस बैठक में लालकृष्ण आडवाणी और उमा भारती और विनय कटियार शामिल नहीं थे।


आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी विध्वंस मामले में लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार, विष्णु हरि डालमिया, सतीश प्रधान, सी आर बंसल, साध्वी ऋतंभरा, आर वी वेदंती, जगदीश मुनि महाराज, बी एल शर्मा, नृत्य गोपाल दास, धर्म दास, सतीश नागर पर आपराधिक षडयंत्र का केस चलाने का आदेश दिया है।