बाबर के वंशज ने ठोंका दावा, 'कहा मोदी वापस दिलाएं मुझे कोहिनूर'

 

नई दिल्ली(22 अप्रैल):  मुगल बादशाह बाबर के वंशज मिर्जा आलमगीर बख्त ने कोहिनूर हीरा को अपना बताते हुए नया राग छेड़ दिया है। उन्होंने कोहिनूर हीरे पर अपना हक जताया है।

उनका कहना है कि कोहिनूर असल में बनारस की थाती के रूप में ब्रिटिश सरकार द्वारा उन्हें लौटाया जाना चाहिए। इसलिए कि मुगल खानदान के वारिस के रूप में मैं बनारस में रह रहा हूं। कोहिनूर को मुगल वंश की निशानी बताते हुए आलमगीर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत भेजा है। बता दें कि इससे पहले इनकी मां तैमूर सुल्तान ने ताजमहल पर अपना हक जताते हुए सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा दायर किया था।   गोविंदपुरा (छत्तातले) में रहने वाले मिर्जा आलमगीर बख्त ने पीएम को भेजे पत्र के साथ मुगलवंश की 15 पीढ़ियों का ब्रिटिश सरकार का प्रमाणित सिजरा (वंशावली) भी भेजा है। कहा है कि मुगलवंश का देश में इकलौता वारिस मैं हूं और कोहिनूर पर मेरा हक है। आलमगीर ने प्रधानमंत्री से गुजारिश की है कि मुगल वंशज के रूप में मेरे पूर्वज 220 वर्ष से काशी में गुमनाम जिंदगी जी रहे हैं।   उन्होंने कहा कि इसे बनारस की थाती के रूप में सहेजने की पहल करनी चाहिए। इससे पहले आलमगीर की मां तैमूर सुल्तान प्यार की निशानी के तौर पर आगरे के ताजमहल पर अपना हक जता चुकी हैं। आलमगीर बताते हैं कि ताज भी मेरा ही है। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट में मेरी मां ने वर्ष 2005 में मुकदमा किया था। तैमूर सुल्तान का वर्ष 2008 में इंतकाल हो चुका है।