पीएम मोदी ने जो अब तक कहा वो करके दिखाया: बाबा रामदेव

नई दिल्ली ( 20 फरवरी ): योग गुरु बाबा रामदेव सोमवार सुबह भोपाल पहुंचे, सीएम शिवराज सिंह ने उनका स्वागत किया। इस दौरान बाबा रामदेव ने कहा कि कोई भी राजनीतिक दल स्वदेशी वस्तुओं को बढ़ावा नहीं देना चाहता। विदेशी कंपनियों ने देश में 50 लाख करोड़ के मार्केट पर कब्जा जमा रखा है।

योग गुरु बाबा रामदेव लालघाटी स्थित वीआईपी गेस्ट हाउस में मीडिया को संबोधित कर रहे थे। नर्मदा सेवा यात्रा में शिरकत करने आए बाबा ने मीडिया के सवालों का बेबाकी से जवाब दिया। बाबा ने कहा कि 50 लाख करोड़ की विदेशी कंपनी का भारत में कब्जा है। कोई भी राजनीतिक पार्टी इसके खिलाफ कुछ नहीं बोल पाती है। क्योंकि सभी उससे चंदा लेते हैं। इसलिए कोई भी पार्टी स्वदेशी को बढ़ाना नहीं देना चाहती है।

बाबा रामदेव ने नोटबंदी पर भी कहा कि दो हजार का नोट पसंद नहीं आया। बड़ी करेंसी देश की अर्थ व्यवस्था के लिए शुभ नहीं होता है। सरकार इस पर विचार करे।

रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब तक जो कहा वह करके दिखाया। उन्होंने बाकी दो सालों में भी वे सब कर सकते हैं। ना मोदी से मोहभंग हुआ न ही उनसे कोई आशा टूटी। बाबा रामदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा है उन्हें आशा है कि दोनों ही निराश नहीं करेंगे।

बाबा रामदेव ने कोकाकोला जैसी शीतल पेय पदार्थों की कंपनी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ऐसी कंपनियों ने देश में जहर घोला है। कोकाकोला नर्मदा से दूर ही रहे।

रामदेव ने कहा कि विदेशों से काला धन लाने की बात पर मैं आशान्वित हूं। हम स्वदेशी को लेकर व्यापार नहीं कर रहे उपकार कर रहे हैं।

बाबा रामदेव ने यह भी कहा कि कांग्रेस यदि देशहित में काम करें तो उन्हें भी सपोर्ट करेंगे।

बाबा ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भरोसा है। मोदी से मोहभंग की बात पर उन्होंने कहा कि साधुसंतों को निर्मोही होना चाहिए। 2014 में देश की परिस्थितियों को देखकर मैंने मोदी का खुलकर समर्थन किया। मैंने उन पर भरोसा किया।

बाबा रामदेव ने कहा कि यदि किसी भी नदी पर खनन होता है तो गैर कानूनी काम नहीं होना चाहिए। अमर्यादित काम नहीं होना चाहिए। बाबा ने यह भी कहा कि नर्मदा के किनारे पौधरोपण होना चाहिए। आंवला होगा तो हम भी खरीद लेंगे।

मीडिया के सवालों के जवाब में बाबा ने कहा कि पूरे प्रदेश में शराबबंदी होना चाहिए। बाबा का बयान उस समय आया है जब नर्मदा सेवा यात्रा चल रही है और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शराबबंदी को धीरे-धीरे बंद करने के प्रयास कर रहे हैं।

बाबा रामदेव से पहले तिब्बती दलाई लामा, महानायक अमिताभ बच्चन और पार्श्व गायिका लता मंगेशकर भी इस अभियान की तारीफ कर चुके हैं।