दाऊद, हाफिज, मसूद को घर में घुसके मारे सरकार - बाबा रामदेव

नई दिल्ली ( 18 अक्टूबर ): उरी में सेना कैंप पर हुए आतंकी हमल के बाद पूरे देश में पाकिस्तान औऱ आतंकियों को लेकर गुस्सा है। उसके बाद से देश में पाकिस्तान और आतंकियों को सबक सिखाने की मांग की जा रही है। इस मु्द्दे पर योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक करके आतंकियों के अड्डे खत्म करने के बाद अब सरकार को इन आतंकियों के आकाओं को मारना चाहिए। उन्होंने कहा कि दाऊद इब्राहिम, हाफिज सईद, मसूद अजहर और सलाउद्दीन को उनके घर के भीतर घुस कर मारना चाहिए। 

यूपी चुनाव से पहले मंदिर को लेकर गरमाई राजनीति पर बाबा रामदेव का कहना है कि राम मंदिर आस्था का मुद्दा है, राजनीतिक मुद्दा नहीं है। इस मुद्दे को आपस में बातचीत के द्वारा सुलझा लेना चाहिए।  राम धर्मनिरपेक्ष हैं।  किसी धर्म और समुदाय से नहीं बल्कि राम सभी के हैं। 

रामदेव ने चाइनीज समानों के बारे में कहा कि चाइनीज समान का बहिष्कार करना जरूरी है, क्योंकि दुश्मनों को सबक मिलना चाहिए। चाहे वह व्यापारी हो, राजनीतिक दल या फिर कोई और समूह, हर तरीके से इन पर असर छोड़ना चाहिए।  बाबा रामदेव ने कहा कि जो चाइनीज सामान लाया जाता था, उसकी कमी आने पर वे खुद उसका विकल्प देने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अगर मोदी सरकार उनकी मदद करे, तो वह चीन को टक्कर दे सकते हैं। 

सर्जिकल स्ट्राइक के बारे बाबा रामदेव का कहना है कि मोदी को इसका श्रेय मिलना ही चाहिए क्योंकि राजनीतिक इच्छाशक्ति तो मोदी की थी। चूंकि मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं इसलिए उनको क्रेडिट देने में कोई राजनीति नहीं देखनी चाहिए। जब देश का मुद्दा होता है तो सबको उसमें साथ देना चाहिए। रामदेव ने कहा कि राहुल गांधी का 'खून की दलाली' वाली बात ठीक नहीं थी। 

फिल्मी ​कलाकारों को कोई समझ नहीं  बाबा रामदेव ने प्रियंका चोपड़ा के पाक कलाकारों के समर्थन के बयान पर कहा कि पाकिस्तानी कलाकारों को उनकी फिल्मों को, सीरियल को, हर तरह से बैन कर देना चाहिए। जब देश का और राष्ट्र का मामला है तो उसमें सब लोग एकमत होने चाहिए,  क्योंकि फिल्म कलाकार जो एक्टिंग करते हैं, इनको ज्यादा समझ नहीं होती है। इसलिए ऐसे मुद्दों पर फिल्मी कलाकारों को बोलने से बचना चाहिए।