रामदेव का बड़ा बयान- नहीं आया काला धन इसलिए बात करना बंद किया

उज्जैन (13 मई): बाबा रामदेव ने काले धन पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए इस मुद्दे पर बात न करने का कारण बताया है। उन्होंने कहा कि काला धन वापस नहीं आया इसलिए इस पर बात करना बंद कर दिया। 

स्वदेशी अपनाएं, देश बचाएं का नारा बाबा रामदेव ने इससे पहले महाकुंभ के दूसरे दिन लोगों को स्वदेशी वस्तुओं का उपयोग करने का संदेश दिया और मंच से अपनी खड़ाऊ दिखाते हुए कहा कि ब्रांडेड चीजें खरीदना-पहनना वैचारिक प्रदूषण है। इसी के साथ उन्होंने स्वदेशी अपनाएं, देश बचाएं का नारा बुलंद किया। बाबा रामदेव ने 500 करोड़ में चार अनुसन्धान केंद्र बनाने की घोषणा भी की।

काले धन पर पहले भी सरकार को घेर चुके हैं रामदेव कालेधन को लेकर रामदेव ने इसी साल जनवरी में भी सरकार पर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने कहा था कि सरकार को कालाधन वापस लाने के लिए नई प्रक्रिया लागू करनी करनी चाहिए। सरकार अभी तक कालाधन वापस नहीं ला पाई है। उन्होंने यहां तक कहा था कि देश में काला धन घटने की बजाय बढ़ता ही जा रहा है।