बाबा रामदेव ने खुलेआम दी विदेशी कंपनियों को चुनौती

कुंदन सिंह, नई दिल्ली (1 फरवरी): योग सिखाने वाले बाबा रामदेव ने ऐलान कर दिया है कि जल्द ही वो बाजार में अपने पतंजलि प्रोडक्ट के दम पर विदेशी कंपनियों को शीर्षासन करा देंगे। अकेले शहद, घी, च्यवनप्राश और टूथपेस्ट के बाजार में बाबा रामदेव अपने प्रोडक्ट से विदेशी कंपनियों को टक्कर दे रहे हैं।

बाबा रामदेव का दावा है कि उनके प्रोडक्ट से विदेशी कंपनियां डर गई हैं। वो पतंजलि के खिलाफ साजिश रच रही हैं। लेकिन रामदेव कहते हैं कि वो डरेंगे नहीं, विदेशी कंपनियों का डिब्बा गोल करके ही रहेंगे। बाबा का कहना है कि पतंजलि को ये खरीद नहीं सकते। छोटे लोगों को स्पॉन्सर किया जा रहा है और लाखों-करोड़ों दिए जा रहे हैं। लेकिन साल के अंत तक इन सबका शीर्षासन होगा।

10 साल पहले एक दवा की दुकान के तौर पर शुरू किए गए पतंजलि को आज रामदेव ने बाजार में इतना बड़ा बना दिया है, जिसके अब देश भर में दस हजार से ज्यादा स्टोर हैं। पतंजलि के इकलौते ब्रांड एबेंस्‍डर बाबा रामदेव सिर्फ अपने उत्पादों का प्रचार ही नहीं कर रहे, बल्कि वो तो अब विदेशी कंपनियों पर बाजार-ए-जंग में वार भी कर रहे हैं। बाबा रामदेव आटे से लेकर हल्दी तक, शहद से लेकर मक्खन तक, बिस्किट-नूडल्स से शैंपू तक और फेसवॉश से टूथपेस्ट तक सबकुछ पतंजिल ब्रांड के तहत मार्केट में बेच रहे हैं। साल दर साल बाबा के पतंजलि ब्रांड ने मार्केट में अपनी पकड़ ऐसी कर ली है कि रामदेव आरोप लगाते हैं कि विदेशी कंपनियां उनके खिलाफ साजिश रच रही हैं।

बाबा रामदेव कहते हैं कि वो तो दो महीने शांत रहना चाहते थे। लेकिन योग गुरु के बाजार गुरु बने बाबा रामदेव के मुताबिक विदेशी कंपनियों के साजिश ने उन्हें बोलने के लिए मजबूर किया है। बाबा दम भरकर कहते हैं कि अब विदेशी कंपनियों को वो शीर्षासन करा देंगे। बाबा रामदेव की इस बाजार-ए-जंग के पीछे वजह है दिन दूना रात चौगुना उनका बढ़ता कारोबार। दस साल में पतंजलि का कारोबार 2 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गया है।

साल 2016 में कंपनी का लक्ष्य 5 हजार करोड़ रुपए तक पहुंचने का है और अगले चार साल में 20 हजार करोड़ के टर्न ओवर का टारगेट है। आयुर्वेदिक दवाई के 35 फीसदी बाजार पर अब पतंजलि का कब्जा है। शहद, घी और च्यवनप्राश के भी करीब 30 फीसदी बाजार पर पतंजलि ने कब्जा जमा लिया है। दावा है कि पतंजलि अपने दंत मंजन से टूथ पेस्ट की नामी कंपनियों को पानी टक्कर दे रही है।

पहले योग और अब पतंजलि के प्रोडक्ट्स का बाबा रामदेव ने वो साम्राज्य खड़ा कर लिया है। जहां वो विरोधियों को उन्हीं के बाजार में उतरकर दांव दे रहे हैं और मजे की बात ये है कि बाबा विदेशी कंपनियों के साथ मार्केट की उस लड़ाई को खालिस देसी अंदाज में लड़ रहे हैं।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=j30BtXfW1Y8[/embed]