जल निगम भर्ती घोटाले में आरोपी पूर्व मंत्री आजम खान की गिरफ्तार पर रोक

नई दिल्ली ( 24 मई ): पूर्व मंत्री रहे आजम खां को गुरुवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच से भर्ती घोटाला में बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने जांच कर रही एजेंसी एसआइटी को निर्देश दिया है कि आजम खां को इस भर्ती घोटाले में गिरफ्तार न किया जाए।आजम खां ने अपनी गिरफ्तारी पर रोक लगाने की खातिर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने एसआईटी के जवाब के बाद याचिका निस्तारित कर दी है।जल निगम भर्ती घोटाले में आरोपी पूर्व मंत्री आजम खां को गिरफ्तारी से राहत मिल गई है। इस मामले की जांच कर रही एसआईटी ने हाईकोर्ट में गुरुवार को साफ किया वह जांच के दौरान किसी की गिरफ्तारी नहीं करती है। मुकदमे की जांच पूरी करने के बाद वह प्रदेश शासन को अपनी रिपोर्ट सौंप देगी।अप्रैल में ही जल निगम भर्ती घोटाले में पूर्व मंत्री और समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खां के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है। आजम खां के खिलाफ जालसाजी, धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार अधिनियम में मुकदमा दर्ज हुआ है। आजम खां के साथ पूर्व नगर विकास सचिव एसपी सिंह, ओएसडी अफाक, पीके आसुदानी और चीफ इंजीनियर के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।