गुलाम कश्मीर में लगे आजादी के नारे, पाकिस्तान के खिलाफ लोगों में गुस्सा

नई दिल्ली (26 मई): पाक अधिकृत कश्मीर में कई पॉलीटिकल लीडर्स को अवैध रूप से हिरासत में लिए जाने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ है। यह प्रदर्शन पीओके के रावलकोट इलाके में हुआ। इस दौरान आजादी के नारे भी लगाए गए और जल्द से जल्द रिहाई की मांग की गई। पीओके में इस तरह का यह पहला मामला नहीं है। पीओके में सेना और नवाज सरकार के प्रतिनिधियों पर आम लोगों के साथ अत्याचार का आरोप लगता रहा है।


 इससे पहले मई माह की शुरुआत में पीओके में छात्रों ने पाकिस्तान के खिलाफ आज़ादी के नारे लगाए थे। पीओके के हजिरा डिग्री कॉलेज के छात्रों ने पाकिस्तान सरकार और सेना की ज्यादतियों के खिलाफ आवाज बुलंद की थी। वीडियो में छात्रों को नीली रंग के ड्रेस पहने हुए आज़ादी के नारे लगाते हुए दिखाया गया था। स्टूडेंट्स ने नारे लगाए थे- पाकिस्तान से हम लेकर रहेंगे आज़ादी, हक है हमारा आज़ादी, हम क्यों न मांगे आज़ादी। विरोध प्रदर्शन के दौरान एक छात्र कह रहा है कि कौन कहता है कि पाकिस्तान एक आज़ाद मुल्क है, जिसके सारे फैसले पहले व्हाइट हाउस से होते थे अब बीजिंग से होते हैं। जहां हजारों बच्चे भूख से मर जाते हैं।