अयोध्या में 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' से भी ऊंची बनेगी भगवान राम की मूर्ति, मॉडल हुआ जारी


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 नवंबर): अयोध्या में भगवान राम की मंदिर बनाने को लेकर वीएचपी, संघ, शिवसेना समेत कई हिंदू सगठनों की मांग के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ऐलान किया है। योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि अयोध्या में 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' से भी भगवान राम की प्रतिमा बनेगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने यहां प्रस्तावित राम मूर्ति की तस्वीर भी जारी कर दी है। अयोध्या में श्रीराम की यह मूर्ति 151 मीटर ऊंची बनेगी। उत्तर प्रदेश सरकार के आधिकारिक ट्वीटर पेज पर ट्वीट करके कहा गया कि राम जन्मभूमि अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की विशालकाय प्रतिमा स्थापित की जाएगी। जिसकी ऊंचाई लगभग 221 मीटर होगी।


इस मूर्ति की ऊंचाई 151 मीटर होगी। इसका आधार 50 मीटर का होगा और इसके ऊपर 20 मीटर ऊंचा छत्र होगा। यानी इस प्रतिमा की कुल ऊंचाई 221 मीटर होगी। मूर्ति के बेस के अंदर एक भव्य हॉल होगा। जिसमें एक म्यूजियम स्थापित किया जाएगा। इस म्यूजियम में भगवान विष्णु के सभी अवतारों की जानकारी और अयोध्या एवं राम जन्मभूमि का इतिहास संग्रहित किया जाएगा। श्रीराम की मूर्ति स्टैच्यू आॅफ यूनिटी से भी ऊंची बनेगी। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की ऊंचाई 182 मीटर है।
जानकारी के मुताबिक इस प्रोजेक्टर में मूर्ति के अलावा विश्राम घर, श्रीराम की कुटिया और रामलीला मैदान भी बनाया जाएगा। आपको बता दें कि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के उद्घाटन के साथ ही श्रीराम की मूर्ति लगाए जाने को लेकर बयानबाजी तेज हो गई थी। विपक्षी दल के नेता इसको लेकर बीजेपी पर निशाना भी साध रहे थे। उस दौरान सपा के नेता आजम खान ने श्रीराम की मूर्ति बनाए जाने की अटकलें तेज होने पर सीएम योगी पर कई आरोप लगाए थे।वहीं इस महीने की शुरूआत में यूपी के डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा में मुरादाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि हमारी सरकार ने संतों का हमेशा सम्मान किया। राम मंदिर पर सरकार संतों के साथ बैठकर बात करेगी। हिंदुओं के साथ मुसलमान भी चाहते हैं कि राम मंदिर मसले का निस्तारण हो।