Blog single photo

अयोध्या मामला: विवादित जगह छोड़ने को तैयार सुन्नी वक्फ बोर्ड !

सुप्रीम कोर्ट में आज अयोध्या राम जन्मभूमि और बाबरी जमीन विवाद में आखिरी सुनवाई हो रही है। सुप्रीम कोर्ट में इस मामले के सुनवाई के आखिरी आज 40वें दिन सुनवाई शुरू होने से पहले सुन्नी वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में एक एफिडेविट दिया है

प्रभाकर मिश्रा, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 अक्टूबर): सुप्रीम कोर्ट में आज अयोध्या राम जन्मभूमि और बाबरी जमीन विवाद में आखिरी सुनवाई हो रही है। सुप्रीम कोर्ट में इस मामले के सुनवाई के आखिरी आज 40वें दिन सुनवाई शुरू होने से पहले सुन्नी वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में एक एफिडेविट दिया है। इस हलफनामे में अयोध्या की विवादत भूमि से अपना दावा छोड़ने की बात कही गई है। ये हलफनामा मध्यस्थता कमेटी के सदस्य श्रीराम पंचु के जरिए दिया गया है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई शुरू होने पर सुन्नी वक्फ बोर्ड के अपील वापस लेने के मामले में कोर्ट में कोई चर्चा नहीं हुई। इस बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील ने भी इन अटकलों को सिरे से खारिज किया है।

मध्यस्थता की अटकलों पर अयोध्या केस के एक पक्षकार इकबाल अंसारी के वकील ने स्पष्ट कहा है कि न तो उनके मुवक्किल ने और न ही सुन्नी वक्फ बोर्ड ने दावा छोड़ने पर विचार किया है। अंसारी ने कहा कि हम कमिटी के साथ हैं। उन्होंने कहा, 'अगर सुन्नी वक्फ बोर्ड मध्यस्थता के लिए सामने आता है तो वह भी इससे पीछे नहीं हटेंगे।' अंसारी ने कहा कि कोर्ट सबूतों के आधार पर फैसला करता है, इसलिए अटकलें लगाने से कुछ नहीं होगा। सभी पक्षों को कोर्ट के फैसला का ही इंतजार करना होगा। बता दें कि इकबाल अंसारी अयोध्या केस के एक प्रमुख पक्षकार रहे हाशिम अंसारी के पुत्र हैं। हाशिम अंसारी का निधन हो चुका है।

आपको इलाहाबाद कोर्ट ने 30 सितंबर 2010 को विवादित 2.77 एकड़ जमीन को सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लला विराजमान के बीच बराबर-बराबर बांटने का आदेश दिया था। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में इस फैसले के खिलाफ 14 याचिकाएं दायर की गईं थीं। शीर्ष अदालत ने मई 2011 में हाई कोर्ट के फैसले पर रोक लगाने के साथ विवादित स्थल पर यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया। इन 14 अपीलों पर 6 अगस्त से लगातार सुनवाई हो रही है। आज सुनवाई का आखिरी दिन है और सुप्रीम कोर्ट 17 नबंवर को सीजेआई रंजन गोगोई के रिटायर्ड होने से पहले इस पर अपना फैसला सुना देगा।

Tags :

NEXT STORY
Top