मंगलवार से हड़ताल पर ऑटो-टैक्सी यूनियन, केजरीवाल सरकार पर लगाया यह आरोप

नई दिल्ली (25 जुलाई): मंगलवार का दिन राजधानी वासियों के लिए दिक्कत भरा हो सकता है, क्योंकि ज्वॉइंट एक्शन कमेटी ऑटो टैक्सी यूनियन ने एप बेस्ड कैब सर्विस के खिलाफ राजधानी में हड़ताल करने का ऐलान किया है।

भारतीय मजदूर संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने इस हड़ताल का ऐलान करते हुए दिल्लीवालों से माफी मांगी और कहा कि दिल्लीवालों की मुश्किलों के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जिम्मेदार हैं। दरअसल टैक्सी यूनियन पिछले कुछ महीनों से लगातार एप बेस्ड ओला और उबर जैसी कैब सर्विसेज को बंद करने की मांग कर रही थी। ऑटो-टैक्सी चालकों के मुताबिक ओला और उबर की वजह से ऑटो-टैक्सी चालकों की रोजी-रोटी प्रभावित हो रही है। लिहाजा ऑटो-टैक्सी यूनियन ने हड़ताल करने का फैसला किया है।

यूनियन के मुताबिक सरकार जब तक उनकी मांगों को नहीं मान लेती, टैक्सी चालक और ऑटो रिक्शा सड़कों पर नहीं उतरेंगे। टैक्सी चालकों को दावा है कि केजरीवाल सरकार को बार-बार एप बेस्ड कैब सर्विस की शिकायत करने के बावजूद सरकार ने ऐसी कंपनियो पर कोई करवाई नहीं की।