भारत की मजबूत पकड़ से लैंगर को लगी मिर्ची, कोहली-सचिन के खिलाफ कही ये बातें

Photo: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (8 दिसंबर): एडिलेड में ऑस्टेलिया के खिलाफ भारत की मजबूत पकड़ के बाद कंगारू के होश उड़े हुए हैं। अब कंगारू खिलाड़ी किसी भी तरह से भारत पर दबाव बनाने में लगे हुए। उनको विश्वास नहीं हो रहा है कि पहली पारी में 250 रन बनाकर भी टीम इंडिया मैच में बनी हुई है। इसीलिए ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर के खिलाफ जहर उगला है।

ऑस्टेलियाई खिलाड़‍ियों के आउट होने पर विराट जिस तरह से जोश में दिखे, लैंगर को यह भी अच्छा नहीं लगा और उन्होंने कहा कि यदि उनके खिलाड़ी भारतीय कप्तान विराट कोहली की तरह विकेटों का जश्न मनाते तो उन्हें अब तक ‘दुनिया के सबसे बदतर इंसान’ करार दे दिया गया होता। लैंगर ने भारत के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया की धीमी बल्लेबाजी को लेकर सचिन तेंदुलकर के ‘रक्षात्मक मानसिकता’ वाले ट्वीट पर भी ऐतराज जताया।

लैंगर ने कहा ,‘कोहली खेल का सुपरस्टार हैं और कप्तान हैं। हम ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में इस पर लंबी बात करते आए हैं कि विरोधी कप्तान को दबाव में रखना है। खेल में वह जुनून देखकर अच्छा लगता है।’ उन्होंने कहा, ‘यदि हम ऐसा कुछ करते तो हमें दुनिया में सबसे खराब कह दिया जाता। सीमारेखा की बात होने लगती। लेकिन, मुझे जुनून देखकर अच्छा लगता है कि एक सीमा रेखा होती है।’

इससे पहले तेंदुलकर ने ट्विटर पर लिखा, ‘टीम इंडिया को इस स्थिति का पूरा फायदा उठाकर अपनी पकड़ नहीं छोड़नी चाहिए। ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की अपनी धरती पर रक्षात्मक मानसिकता मैने पहले कभी नहीं देखी।’ लैंगर ने कहा, ‘सचिन ने जिन टीमों के खिलाफ खेला, उनमें एलेन बॉर्डर और डेविड बून, स्टीव और मार्क वॉ और रिकी पोंटिंग जैसे खिलाड़ी थे। हमारे पास ऐसी टीम है जिसके पास टेस्ट क्रिकेट का ज्यादा अनुभव नहीं है।’