कोहली से बचने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने बनाया दुबई प्लान...

नई दिल्ली (2 जनवरी): साल 2017 में टीम इंडिया को पहली टेस्ट सीरीज ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलनी है। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और टी 20 सीरीज के बाद 23 फरवरी से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज पुणे से होगा, लेकिन सीरीज से 50 दिन पहले ही ऑस्ट्रेलिया को विराट के खिलाफ हार का डर सताने लगा है।


जी हां, 2008, 2010 और 2013 की सीरीज में कंगारू टीम को भारत में एक भी मैच जीतने का मौका नहीं मिला। 2013 की सीरीज में पहली बार ऑस्ट्रेलियाई टीम को भारत के खिलाफ क्लीन स्विप का सामना करना पड़ा था। इतना ही नहीं साल 2008 से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू मैदान पर टीम इंडिया ने रिकॉर्ड 7 लगातर जीत दर्ज की है जबकि घरेलू मैदान पर पिछले 11 टेस्ट में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोई मैच नहीं हारी है।


ऑस्ट्रेलिया ने भारत में अंतिम बार साल 2004 में कोई टेस्ट मैच जीतने में कामयाब हुई थी। 13 साल के इस आकाल को खत्म करने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने भारत आने से पहले दुबई जाने का फैसला किया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के हाई परफॉर्मेंस मैनेजर पैट होवर्ड का कहना है कि भारत में हर जगह परिस्थितियां एक जैसी नहीं होंगी। दुबई में हमारी टीम अलग-अलग तरह की पिचों पर तैयारियां करेगी। दुबई की पिचें भी भारतीय पिचों की तरह स्पिन फ्रेंडली है, जिससे हमें भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मदद मिलेगी।


ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान के खिलाफ कल से शुरु हो रहे सिडनी टेस्ट में टीम का चयन भारत के खिलाफ 4 टेस्ट मैचों की सीरीज को ध्यान में रखकर ही किया है। इस टीम में नाथन लियोन और स्टीव ओ कीफे के रूप में 2 स्पिनर रखे गए हैं। दुबई में प्रैक्टिस करने का आइडिया ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड से मिली है। 2012 में भारत दौरे से पहले इंग्लैंड की दुबई में अभ्यास किया था और सीरीज 2-1 से जीतने में कामयाब रही थी इंग्लैंड की टीम।


लेकिन शायद कंगारू थिंक टैंक ये भूल गए हैं कि उनका सामना इस बार उस टीम इंडिया से है जिसके कप्तान विराट कोहली हैं और विराट के आगे हर प्लान पर पानी फिर जाता है जैसा कि इस बार इंग्लैंड के साथ हुआ। इंग्लैंड ने इस विराट की मार से बचने के लिए दुंबई का रुख किया था, लेकिन हार से बच नहीं पाए और अब बारी ऑस्ट्रेलिया की है।