एशेज सीरीज: ऑस्ट्रेलिया ने जीता पहला टेस्ट मैच, बने ये 4 रिकॉर्ड

australia beat england by ten wickets in first ashes test match

नई दिल्ली (28 नवंबर): ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेले गए पहले टेस्ट मैच में कंगारुओं का दबदबा देखने को मिला और मेजबान टीम ने पहले टेस्ट को 10 विकेट से जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। इंग्लैंड की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 10 रनों की लक्ष्य रखा था, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने आसानी से बिना कोई विकेट खोए बना लिया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेविड वॉर्नर ने (87) और कैमरन बैंक्रॉफ्ट ने (82) रनों की पारी खेली। इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने 4 बड़े रिकॉर्ड भी बना दिए हैं। आइए आपको बताते हैं कि ऑस्ट्रेलिया की जीत के बाद कौन-कौन से रिकॉर्ड बने।

वॉर्नर-बैंक्रॉफ्ट की जोड़ी ने रचा इतिहास: पहले टेस्ट मैच में अपनी टीम को जीत दिलाने में डेविड वॉर्नर और युवा बल्लेबाज कैमरन बैंक्रॉफ्ट ने अहम भूमिका निभाई। दोनों खिलाड़ियों ने दूसरी पारी में पहले विकेट के लिए 173* रनों की साझेदारी की और अपनी टीम को 10 विकेट से जीत दिला दी। दोनों के बीच की ये साझेदारी किसी भी जीते हुए मैच के लिए चौथी पारी में सबसे बड़ी साझेदारी बन गई है।

29 साल से ब्रिस्बेन में अजेय है ऑस्ट्रेलिया: ऑस्ट्रेलिया की टीम ने ब्रिस्बेन में खेले गए पहले टेस्ट मैच को जीतकर एक और रिकॉर्ड बनाया। दरअसल, ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया पिछले 29 साल से हारा नहीं है और टीम 1988 से अब तक गाबा के मैदान पर अजेय है जो कि किसी भी मैदान पर सबसे ज्यादा साल तक अजेय रहने का दूसरा सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। किसी भी मैदान पर सबसे ज्यादा साल तक अजेय रहने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के नाम है। पाकिस्तान ने कराची में 1955 से लेकर 2000 यानि की 34 साल तक कोई टेस्ट नहीं हारा। वहीं वेस्ट इंडीज ने ब्रिजटाउन में 1935 से लेकर 1994 (27 साल) तक कोई टेस्ट नहीं हारा। इसके अलावा इंग्लैंड ने भी मैंचेस्टर में 1905 से 1954 (25 साल) तक कोई मैच नहीं हारा था।

डेब्यू मैच में चौथी पारी का सबसे बड़ा स्कोर: ऑस्ट्रेलिया के युवा बल्लेबाज कैमरन बैंक्रॉफ्ट ने पहले टेस्ट की दूसरी पारी में 82* रन बनाए। इसके साथ ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से बतौर डेब्यू खिलाड़ी टेस्ट मैच की चौथी पारी में सबसे बड़ा स्कोर बनाने का रिकॉर्ड बनाया। इससे पहले ये रिकॉर्ड नॉर्म ओ’नील के नाम था। नील ने साल 1958 में इंग्लैंड के खिलाफ चौथी पारी में 71* रन बनाए थे। अब बैंक्रॉफ्ट ने 49 साल बाद इस रिकॉर्ड पर अपना नाम लिखवा लिया है।

10 साल पहले 10 विकेट से जीता था मैच: ऑस्ट्रेलिया ने पहले टेस्ट मैच को 10 विकेट से अपने नाम किया है। आपको बता दें कि इससे पहले ऑस्ट्रेलिया की टीम ने एशेज टेस्ट के किसी भी मैच को 10 विकेट से साल 2007 में जीता था। सिडनी में आज से ठीक 10 साल पहले खेले गए एशेट टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया था। खास बात ये थी कि ऑस्ट्रेलिया ने उस एशेज सीरीज में इंग्लैंड को 5-0 से करारी मात दी थी।