'बेईमानी' कर घिरे स्मिथ, कारवाई की उठी मांग

नई दिल्ली(8 मार्च): भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दौरान खुद के LBW आउट होने पर डीआरएस लेने को लेकर ड्रेसिंग रूम से सलाह मांगने पर घिरे ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने अपनी गलती मान ली है।

- स्मिथ ने माना है कि उनसे गलती हुई है, लेकिन उनके नीयत में कोई कमी नहीं थी। हालांकि स्मिथ की ओर से गलती मानने के बाद भी मामला थमता नहीं दिख रहा है। एक ओर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने उनके रवैये को गलत करार दिया है तो दूसरी तरफ टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीसीसीआई इस बारे में आईसीसी के समक्ष कोई आधिकारिक शिकायत दर्ज नहीं कराई गई हैं, लेकिन टीम अपने आरोपों को लेकर दबाव बनाएगी।

- इस बीच दिग्गज बल्लेबाज रहे सुनील गावस्कर ने कहा कि नियमों के उल्लंघन करने पर आईसीसी को स्मिथ को सजा देनी चाहिए। उधर टीम इंडिया के सफलतम कप्तानों में शुमार किए जाने वाले सौरभ गांगुली ने भी अथॉरिटीज से स्मिथ के खिलाफ ऐक्शन की मांग की है। उन्होंने कहा, 'अंपायरों और मैच रेफरी को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि भविष्य में ऐसी घटना न दोहराई जाए।'

- वीवीएस लक्ष्मण ने इस मामले पर ट्वीट कर कहा, 'स्मिथ ने जिस तरह से डीआरएस लेने की कोशिश की, वह निराश करने वाला और खेल भावना के विपरीत है।'

- गौरतलब है कि मंगलवार को दूसरे टेस्ट के चौथे दिन ही टीम इंडिया ने 188 रन के लक्ष्य को हासिल करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को 112 पर ढेर कर 75 रन से जीत हासिल कर ली थी। 74 रन के स्कोर पर पेसर उमेश यादव ने स्टीव स्मिथ को पगबाधा आउट कर दिया था। अंपायर के फैसले से नाखुश स्मिथ ने डीआरएस लेने के लिए इशारों-इशारों में ड्रेसिंग रूम से मदद मांगने की कोशिश की थी। इस पर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने उनकी इस हरकत को खेल भावना के विपरीत करार देते हुए 'धोखा' बताया था।