औरंगाबाद DM के आवास पर CBI की छापेमारी, 2.10 करोड़ की हेराफेरी का मामला

पटना (23 फरवरी): बिहार के औरंगाबाद के जिलाधिकारी कंवल तनुज के आवास पर सीबीआई की टीम ने आज छापेमारी की। पूरा माला 2 करोड़ 10 लाख की गड़बड़ी से जुड़ा हुआ है। दरअसल औरंगाबाद के नवीनगर में रेल और एनटीपीसी के संयुक्‍त उपक्रम से 1000 मेगावाट का बिजली घर बन रहा है। इसके लिए जमीन अधिग्रहण हुआ था। अधिग्रहित जमीन में से वर्ष 7 एकड़ 45 डिसिमल जमीन को वर्ष 2015 में पहले मालिक गरमजरूआ घोषित किया गया। 

दो साल बाद वर्ष 2017 की रिपोर्ट जब डीएम ने मांगी तो सीओ ने बताया कि ये मालिक गरमजरूआ नहीं है, बल्कि गोपाल प्रसाद सिंह की रैयती जमीन है। इसके एवज में गोपाल प्रसाद सिंह को ही 2 करोड़ 10 लाख का भुगतान किया गया। यह पैसा उनके खाते में गया है। चर्चा है कि यह जमीन गोपाल प्रसाद सिंह की नहीं है। इसकी शिकायत पर सीबीआई ने छापेमारी की। ये छापेमारी डीएम आवास, डीएम कार्यालय, जिला भू अर्जन कार्यालय, बीआबीसी कंपनी के सीईओ के आवास तथा कार्यालय और अंचल अधिकारी के कार्यालय पर की कई।