ऑडी ए-3 फेसलिफ्ट से उठा पर्दा

ऑडी की ए-3 सेडान भारत में  वैसे तो एक जानी-पहचानी कार है लेकिन ग्राहक इससे ज्यादा अहमियत ए-4 को देते हैं। भारतीय कार बाज़ार की बात करें तो यहां एंट्री लेवल लग्जरी सेडान सेगमेंट में ए-3 सबसे बेहतर कार है। इस कार को और पॉपुलर बनाने के लिए ऑडी अब ए-3 रेंज के फेसलिफ्ट वर्जन लाने जा रही है। इसमें एक फोर डोर (चार दरवाजे), एक थ्री डोर (तीन दरवाजों), फाइव डोर स्पोर्टबैक और टू डोर कैब्रियोलेट मॉडल शामिल हैं। इस रेंज में से फोर डोर सेडान मॉडल सबसे पहले भारत आएगा, इसे अगले साल यहां पेश किया जाएगा।

नई ए-3 के बॉडी डिजायन में कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। इनमें नया हैडलैंप क्लस्टर और फ्रंट ग्रिल प्रमुख तौर पर शामिल है। हैडलैंप यूनिट में अब मैट्रिक्स एलईडी लाइटों का विकल्प मिलेगा। फ्रंट ग्रिल को हैक्सागोनल शेप में रखा गया है। इनके अलावा फ्रंट बंपर में भी कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे ताकि यह बड़े एयरडैम को अच्छे से कवर कर सके।

साइड प्रोफाइल में 16 इंच के नए अलॉय व्हील्स का विकल्प भी मिलेगा। साइड और पीछे का डिजायन टेललैंप्स को छोड़कर पहले जैसा ही रहेगा। टेललैंप्स को थोड़ा नया डिजायन दिया गया है।

केबिन में नया इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर और स्टीयरिंग व्हील देखने को मिलेगा। इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर  में 2 डायल यूनिट और इंफॉर्मेशन डिस्प्ले मिलेगा। नई ए-3 में ऑडी की वर्चुअल कॉकपिट टेक्नोलॉज़ी भी दी जाएगी। यह ड्राइवर को 12.3 इंच के इंफोटेंमेंट डिस्प्ले पर क्लासिक और दूसरे मोड सिलेक्ट करने की सुविधा देती है। यह सुविधा ए-4 में पहले से मौजूद है।

फेसलिफ्ट वर्जन की ए-3 के इंजन में भी खास बदलाव देखने को मिलेंगे। इसमें दो नए इंजन दिए जाएंगे। पहला इंजन 1.0 लीटर का तीन सिलेंडर टीएफएसआई इंजन होगा जो 113 बीएचपी की ताकत और 200 एनएम का टॉर्क देगा। पहली बार ऑडी किसी कार में तीन सिलेंडर इंजन देने जा रही है। दूसरा, 2.0 लीटर का होगा फोर सिलेंडर टीएफएसआई इंजन होगा। यह इंजन 187 बीएचपी की ताकत देगा। इस वेरिएंट की खासियत यह है कि जब कार को कम पावर की जरुरत होगी तो दो सिलेंडर बंद हो जाएंगे।  इससे कार का माइलेज़ बढ़ जाएगा।

भारतीय कार बाजार में ऑडी ए-3 की सबसे कड़ी प्रतिद्वंदी मर्सिडीज़ बेंज़ की सीएलए है। यह दोनों ही कारें पेट्रोल और डीज़ल इंजन में मौजूद हैं। इनमें काफी कंफर्ट फीचर्स भी मिलते हैं।

ऑडी ए-3 और मर्सिडीज़ बेंज़ की तुलना    

ऑडी ए-3 में 1,798 सीसी वाला 40 टीएफएसआई पेट्रोल और 1968 सीसी का 35 टीडीआई डीज़ल इंजन है। सीएलए, 1991 सीसी के 200 पेट्रोल और 2,143 सीसी के 200डी डीज़ल इंजन के साथ आती है। ए-3 पेट्रोल की पावर 180 बीएचपी और टॉर्क 25 एनएम का है। वहीं ए-3 डीज़ल की पावर 143 बीएचपी और टॉर्क 320 एनएम का है। पेट्रोल इंजन सीएलए की पावर 183 बीएचपी और टॉर्क 300 एनएम का है। इसके डीज़ल इंजन की ताकत 136 बीएचपी है और टॉर्क 300 एनएम है। ए-3 की टॉप स्पीड क्रमशः 250 और 215 किलोमीटर प्रति घंटा है। वहीं सीएलए की टॉप क्रमशः स्पीड 235 और 220 किलोमीटर प्रति घंटा है। 0 से 100 की रफ्तार पाने में पेट्रोल ए-3 को 7.3 सेकंड और डीजल ए-3 को 8.6 सेकंड लगते हैं। सीएलए के मामले यह आंकड़ा क्रमशः 7.8 और 9.8 सेकंड का है।

कारदेखो

ऑडी ए-3 फेसलिफ्ट से उठा पर्दा