महिला प्रधान पर हमला, 5 हमलावरों को जिंदा फूंका

रायबरेली(27 जून): ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के इटौरा बुजुर्ग गांव में महिला प्रधान के घर पर किसी मामले को लेकर हुई पंचायत में बात बिगड़ गई। दोनो पक्षों में फायरिंग की गई। कार से आए लोग ग्रामीणों का गुस्सा देख भागने लगे।


- इस पर ग्रामीणों ने कार का पीछा किया तथा उसे आग के हवाले कर दिया। वारदात में कार पर सवार हमलावरों में दो कार में जिंदा जल गए और तीन की आग की लपटों से मौत हो गई।


- ग्राम प्रधान का परिवार गांव से फरार हो गया। देर रात हुई वारदात में पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह खुद मौके पर पहुंचे। बताया कि पांच लोगों की मौत हुई है, वारदात का कारण जानने कोशिश की जा रही है। कोतवाली क्षेत्र के इटौरा बुजुर्ग के अंतर्गत बरगदा गांव में सोमवार की रात लगभग नौ बजे सफारी सवार लोग ग्राम प्रधान रामश्री के घर पहुंचे।


- हमलावरों ने रामश्री के घर पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोलियां चलने की आवाज सुनकर ग्रामीण एकजुट होकर हमलावरों काे पकडने के लिए दौड़े। इस पर हमलावर हाईवे की तरफ भागे, तभी उनकी गाड़ी बिजली के खंभे से टकराकर पलट गई। गाड़ी में आग लग गई और उस पर सवार पांच लोगों की मौत हो गई।


- जान बचाने के लिए तीन लोगों गाड़ी से बाहर निकल पाए, लेकिन उनकी जान नहीं बच सकी। इस बीच गांव के लोग भी आक्रोशित होकर घटनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस पहुंची, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। बवाल बढ़ने पर ग्राम प्रधान का परिवार भी नदारद हो गया। कार में आग कैसे लगी, इस बात के लिए कोई भी जवाब नहीं दे रहा है।


- मौजूदा भीड़ ने कार को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद पुलिस पहुंची तथा जांच पड़ताल की। वहीं पुलिस अधीक्षक भी लगभग 9.45 बजे घटनास्थल पर पहुंच गए। शवों को आनन-फानन कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। देर रात तक हमलावरों की शिनाख्त नहीं हो सकी।