"खत्म हो जाएंगे ATM, क्रेडिट और डेबिट कार्ड्स"

नई दिल्ली (2 अप्रैल): नोटबंदी के बाद से ही मोदी सरकार लोगों को कैशलेस बनाने के प्रति जागरूक करने में लगी हुई है। इसीलिए सरकार ने 2 लाख से ज्यादा के कैश लेनदेन पर जुर्माना तय कर दिया है। अब नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत ने कहा है कि भारत में डिजिटल लेनदेन, मोबाइल वॉलेट्स और बायोमेट्रिक माध्यमों के बढ़ने से ATM, क्रेडिट, डेबिट कार्ड्स का चलन खत्म हो जाएंगा।


अमिताभ कांत ने कहा कि भारत में फिजिकल बैंकिंग लगभग समाप्त हो चुकी है और यहां प्रौद्योगिकी का इतनी तेज रफ्तार से प्रयोग हो रहा है कि अगले तीन-चार सालों में डिजिटल लेनदेन मोबाइल वॉलेट और बायोमीट्रिक माध्यमों से ही होगा। ATM, क्रेडिट, डेबिट कार्ड्स का चलन पूरी तरह खत्म हो जाएगा।


कांत ने कहा कि भारत देश में आने वाले निवेश पर विपरीत प्रभाव डालने वाले नियम-कानूनों को समाप्त करता रहेगा। उन्होंने कहा कि भारत अपनी अर्थव्यवस्था के विस्तार के लिए अनुकूल परिस्थितियां पैदा करेगा।