VIDEO: 3 साल बाद पकड़ा गया ATM में महिला को काटने वाला ये दरिंदा

नई दिल्ली (6 फरवरी): 3 साल पहले बैंगलुरू के एक एटीएम पर एक शख्स घुसता है और शटर गिरा देता है। उसके बाद वो अंदर पैसे निकाल रही महिला के ऊपर धारदार हथियार से कई वार करता है। महिला करीब 2 साल तक अस्पताल में इलाज कराती रही और पुलिस की 12 टीम उस आरोपी को ढूंढती रहीं। करीब 10 करोड़ खर्च होने के बाद भी वो आरोपी पकड़ा नहीं गया, लेकिन एक रूटीन चेकिंग में वो 3 साल बाद गिरफ्त में आया तो कई औऱ खुलासे भी हो गए।

इस दरिंदे ने सिर्फ 2500 रूपए के लिए एक महिला को लहूलुहान कर दिया, वो कातिल पूरे 39 महीने बाद पुलिस के हत्थे चढ़ गया। महिला धारदार हमले के बाद से ही कोमा में थी। 1 साल पहले ही महिला ठीक हुई और फिर से नौकरी ज्वाइन की। महिला एक बैंककर्मी थी। इस वारदात के बाद से ही पूरे कर्नाटक में बिना गार्ड वाले एटीएम पर गार्ड रखने शुरू कर दिए। सबकुछ हुआ, लेकिन वो आरोपी पुलिस की पकड़ में नहीं आया।

5 हत्या का आरोपी, जेल से फरार और एटीए में महिला पर जानलेवा हमला करने वाले इस शख्स का नाम है मधुकर रेड्डी, जिसे आंध्र के चित्तूर जिले से गिरफ्तार किया गया। छानबीन हुई तो मधुकर का पुराना क्राइम रिकॉर्ड मिल गया और उसका चेहरा भी सीसीटीवी फुटेज में हमले करने वाले आरोपी से मिल गया। तब जाकर खुलासा हुआ कि मधुकर पिछले 3 साल से पुलिस को कैसे बेवकूफ बनाता रहा।

- मधुकर 3 साल तक जगह बदलकर रहता रहा

- मधुकर पिछले 1 साल से पेंटर का काम करता था

- एटीएम में हमले के बाद वो बैंगलुरू में ही 4 घंटे तक रुका था

- बैंगलुरू के कब्बन पार्क में मधुकर ने खाना भी खाया था

- बैंगलुरू के बाद कब्बन आंध्र प्रदेश भाग गया

वीडियो: