ATM में इसलिए कम पड़ रहे हैं पैसे, सबकुछ सामान्य होने में लगेगा इतना समय...

नई दिल्ली (11 नवंबर): बैंकों के बाद अब ATM में भी लोगों को पैसे निकालने के लिए घंटों लाइन में लगना पड़ रहा है। हालांकि देश के सभी शहरों में स्थिति एक जैसी है और कहीं-कहीं पर ATM में पैसे कम होने या ना होने की समस्या सामने आ रही है।

स्टेट बैंक के ATMs में नोट न होने या कम नोट होने की बात पर सफाई देते हुए SBI की चेयरमैन अरुंधति भट्टाचार्या ने कहा कि नोटों की साइज अलग-अलग होती है, जिसकी वजह से हम एटीएम के हर कैसेट में 100 की साइज का नोट नहीं डाल सकते हैं। अरुंधति भट्टाचार्या ने कहा, ‘ATM के कैसेट्स के साइज को configure किया जा रहा है। अभी हमारी 21 हजार ATM मशीनें चल रही हैं।’

भट्टाचार्या ने कहा कि बहुत-सी मशीन एजेंसी के जरिए भी ऑपरेट होती हैं। उन्होंने कहा कि करेंसी उपलब्ध है लेकिन नोट को दूसरे कैसेट में अभी नहीं डाला जा सकता। उन्होंने कहा, ‘कैसेट्स को कॉन्फिगर करने पर काम किया जा रहा है। ब्रांच के नाजदीक के ATM में कैसेट बढ़ाई गई है लेकिन ब्रांच से दूर मौजूद ATM के कैसेट को भी 100 की नोट के हिसाब से बनाया जा रहा है।’

अरुंधति भट्टाचार्य ने आगे कहा, ‘अभी सबकुछ सामान्य होने में लगभग एक सप्ताह का समय लगेगा।’ उन्होंने बताया कि एक कैसेट में सिर्फ 2500 नोट आते हैं। उन्होंने कहा, 'RBI की तरफ से नोटों की सप्लाई की कोई कमी नहीं है। नोटों की कमी है ऐसा कहना गलत होगा। यह लॉजिस्टिकल प्रॉब्लम है और जल्द ही इसे दूर किया जा सकेगा।'