एटीएम में एक बार भरे जा सकते हैं 100 के 2000 नोट, इसलिए लग रही हैं लंबी लाइन


नई दिल्ली (12 नवंबर): देश में 500 और एक हजार रुपये के नोट बंद होने के कारण पैसों की ऐसी मारामारी सामने आ रही है, जिसके बाद बैंक व एटीएम के बाहर लंबी-लंबी कतारे देखने को मिल रही हैं। इसके पीछे सरकार की पूरी तरह से तैयारी नहीं कर पाना एक सबसे बड़ी बताई जा रही है।

एसबीआई के चैयरमैन अरुन्धति भट्टाचार्य ने प्रेस कांफ्रेंस करके साफ किया है कि देशभर में हमारे 56 हजार एटीएम हैं, लेकिन उनमें से सिर्फ 21 हजार ही काम कर रहे हैं। इसके पीछे भी उन्होंने कारण बताया कि सभी एटीएम में एक स्लाट होता है, जिसमें पैसे लगाए जाते हैं। अभी तक सभी एटीएम में 50 लाख रुपये तक पैसे भरे जा सकते थे, जिसमें 500 और हजार के स्लाट ज्यादा है। वहीं 100 रुपये के स्लाट के हिसाब से उसमें सिर्फ 2 लाख रुपये ही भरे जा सकते हैं।

ऐसे में 500 का नया नोट अभी सामने नहीं आ रहा है, तो सिर्फ 100 रुपये के 2 लाख रुपये ही एक बार एटीएम में भरे जा सकते हैं। जिससे सिर्फ 100 लोगों को पैसा मिल रहा है। ज्यादा एटीएम में पैसा प्राइवेट कंपनियों के द्वारा भरा जाता है, जिस कारण एटीएम को दुबारा से रिफिल करने की सही सुविधा नहीं हो पाने के कारण लोगों को लंबी-लंबी लाइन में लगना पड़ रहा है।