सिर्फ 10 सालों में सौर मंडल से बाहर मिल जाएगा- 'जीवन'

नई दिल्ली (21 जुलाई): सौर मंडल के बाहर जीवन की तलाश सिर्फ 10 सालों में संभव हो जाएगी। अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है।

ब्रिटिश अखबार 'द इंडिपेंडेंट' की रिपोर्ट के मुताबिक, वैज्ञानिकों ने ऐसे सबूतों का पता लगाया है, कि दो एक्सोप्लेनेट्स बिल्कुल पृथ्वी की तरह हैं। - ये प्लेनेट Trappist-1 नाम के तारे की कक्षा में चक्कर लगाते हैं। जो कि 39 प्रकाश वर्ष दूर स्थित हैं। - ये गोल्डीलॉक्स ज़ोन में स्थित हैं, जिससे पता चलता है कि वहां का तापमान पानी के द्व अवस्था में मिलने के लिए उपयुक्त है। - तारे से काफी दूर होने के कारण यह वाष्पित अवस्था में नहीं है। बल्कि इतना नजदीक है कि ये हमेशा के लिए बर्फ जमी अवस्था में नहीं रहता। - यह खोज मई में सामने आई। लेकिन नेचर जरनल में प्रकाशित होने के बाद अब इसको लेकर काफी दिलचस्पी देखी जा रही है। - वैज्ञानिकों का मानना है कि ये प्लेनेट्स ब्रहस्पति और शनि की तरह गैसीय ना होकर मंगल, बुध और पृथ्वी की तरह चट्टानी हैं।