असम में 29 साल की सबसे भयंकर बाढ़, 80% हिस्सा पानी में डूबा

गुवाहाटी (14 अगस्त): इस वक्त तकरीबन आधा हिंदुस्तान बाढ़ की चपेट में है। बाढ़ की वजह से असम हालत बेहद खराब है। बताया जा रहा है कि असम में पिछले तीन दशकों में यह सबसे भयंकर बाढ़ है। बीते 24  घंटों में बाढ़ से 10 लाख लोग बुरी तरह हुए प्रभावित हैं। वहीं राज्य के 21 जिलों में 15 लाख से ज्यादा प्रभावित हैं। लगभग 3,000 ग्रामीणों को बचाया गया और राहत शिविरों में स्थानांतरित कर दिया गया।  

बाढ़ की वजह से काजीरंगा राष्ट्रीय पार्क काफी प्रभावित हुआ है। काजीरंगा नेशनल पार्क का 80 फीसदी हिस्सा पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। 18 लाख से ज्यादा प्रभावितों को 439 राहत शिविर में ठहराया गया है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के स्टेट प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर  राजिब प्रकाश बरुआ ने कहा कि राहत बचाव के लिए सेना, इंडियन एयरफोर्स, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और एसडीआरएफ की टीम काम कर रही है। 

वहीं ब्रह्मपुत्र नदी का पानी भी बुरी तरह प्रभावित है। नदी का पानी कई जगहों पर 6 फुट से ऊपर है। तो वहीं सड़क और रेल मार्ग भी पूरी तरह ठप पड़ गया है। वहीं  एनएच-37 सड़क मार्ग पर सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं। बता दें कि अप्रैल और जुलाई के बीच बाढ़  में 85 लोगों की मृत्यु हुई और 19 लाख लोग प्रभावित हुए।