ATS के ASP ने की आत्महत्या, सुसाइड लेटर में महिला पर लगाया ब्लैकमेल का आरोप

नई दिल्ली(23 दिसंबर): एटीएस में तैनात एडिशनल एएसपी आशीष प्रभाकर ने गुरुवार रात जयपुर के जगतपुरा रोड पर बॉम्बे अस्पताल के सामने सरकारी कार में सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारकर सुसाइड कर लिया। इससे पहले उन्होंने कार में उनके साथ बैठी महिला फ्रेंड की गोली मारकर हत्या कर दी।

- पुलिस को कार में सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उन्होंने लिखा कि ये महिला उन्हें ब्लैकमेल कर रही थी। सूत्रों के अनुसार सुसाइड से पहले महिला फ्रेंड व एएसपी में छीना-झपटी के सबूत भी मिले हैं।

- प्रभाकर गुरूवार सुबह रोजाना की तरह ही आफिस पहुंचे थे। काम पूरा करने के बाद शाम करीब साढ़े पांच बजे आफिस से निकले।

- इसके बाद महिला फ्रेंड के साथ घूमते रहे। रात करीब आठ बजे उन्होंने कंट्रोल रूम को फोन कर कहा था कि जगतपुरा रोड पर अंडर कंस्ट्रक्शन बिल्डिंग गिर गई।

- इसके बाद साथी एएसपी को फोन किया और कुछ देर बाद सुसाइड कर लिया।

- इस दौरान वहां से गुजर रहे राहगीर ने पुलिस को सूचना दी। तब मामले का पता चला।

- घटनास्थल पर दो गोलियां कार के गेट के शीशे पर तो एक छत में लगी मिली है।

- जिसके चलते पुलिस का शक है कि कार में प्रभाकर ने सुसाइड के लिए जैसे ही रिवाल्वर निकाला तब महिला फ्रेंड से विवाद हुआ होगा।

- जिसके चलते महिला फ्रेंड ने सर्विस रिवाल्वर निकालने के दौरान प्रभाकर का हाथ पकड़ा। जिससे गोली कार के गेट व छत पर लगी।

- पुलिस यह भी मान रही है कि सुसाइड नोट महिला फ्रेंड से मिलने से पहले लिखा था।

- सुसाइड नोट में आशीष ने पत्नी से माफी मांगते हुए लिखा है कि वे गलत रास्ते पर चले गए थे। महिला उन्हें ब्लैकमेल कर रही थी।