Asian Para Games: भारत के लिए शानदार रहा पहला दिन, पहले दिन जीते 6 मेडल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 7 अक्टूबर ): भारत के लिए पैरा-एशियाई खेलों का पहला दिन काफी अच्छा रहा। भारत ने पहले दिन दो रजत सहित कुल छह पदक अपने नाम किए। भारत को तैराकी, बैडमिंटन और पावरलिफ्टिंग में पदक हासिल हुए। भारत के लिए पदकों का खाता पावरलिफ्टर फरमान बाशा ने खोला।पुरुषों की 49 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा में फरमान ने दूसरी बारी में बेहतरीन प्रदर्शन कर 128 किलोग्राम का भार उठाकर रजत पदक जीता। लाओस के लाओपाखडी पिया ने स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। इसके अलावा, इसी स्पर्धा में भारत के ही परमजीत कुमार ने तीसरी बारी में 127 किलोग्राम का भार उठाकर कांस्य पदक हासिल किया।पावरलिफ्टिंग के अलावा भारत को तैराकी में पदक हासिल हुए। सुयश नारायण जाधव ने पुरुषों की 200 मीटर व्यक्तिगत मेडले एसएम-7 स्पर्धा में दो मिनट और 56.51 सेकेंड का समय लेकर फाइनल में तीसरा स्थान प्राप्त कर कांस्य पदक हासिल किया। इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक फिलिपींस के गावलियन एर्नी ने जीता।  सुयश ने जीते 2 पदकसुयश ने इसके अलावा पुरुषों की 50 मीटर फ्रीस्टाइल एस-7 तैराकी स्पर्धा में भी कांस्य अपने नाम किया। उन्होंने 32.16 सेकेंड के समय के साथ कांस्य जीता। वो रजत पदक जीतने से केवल एक सेकेंड पीछे रह गए. सिंगापुर के तोह वेई सूंग ने 29.01 सेकेंड का समय लेते हुए फाइनल स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया।पुरुषों के अलावा भारतीय महिला तैराक सतीजा देवांशी ने भी देश को पदक दिलाया। उन्होंने 100 मीटर बटरफ्लाई एस-10 तैराकी स्पर्धा में एक मिनट और 24.86 सेकेंड का समय लेते हुए फाइनल में सतीजा ने दूसरा स्थान हासिल किया और रजत पदक पर अपना कब्जा जमाया। जापान की इके एरी ने एक मिनट और 09.40 सेकेंड का समय लेते हुए फाइनल में पहला स्थान हासिल कर स्वर्ण पदक जीता।पावरलिफ्टर और तैराकी के अलावा भारत को दिन के बाकी पदक बैडमिंटन में प्राप्त हुए। भारतीय पुरुष बैडमिटन टीम ने टीम स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम किया। भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंचने में सफल रही और उसने कांस्य पदक पक्का किया। सेमीफाइनल में उन्हें मलेशिया से 2-1 से हार का सामना करना पड़ा।