''गवाहों को मारने के बाद पसंद की साधिका देते थे आसाराम''

नई दिल्ली (16 मार्च): नाबालिग से रेप के आरोप में जेल में बंद आसाराम की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पुलिस की गिरफ्त में आए शार्पशूटर ने आसाराम को लेकर कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं।

पुलिस के मुताबिक गिरफ्त में आया आरोपी शार्पशूटर कार्तिक खुद को आसाराम का फिदायीन बता रहा है। पुलिस के मुताबिक उसने कबूल किया है कि आसाराम ने उसे अपनी पसंद की साधिका चुनने का आशीर्वाद दिया था। आरोपी शार्पशूटर कार्तिक के मुताबिक जब उसने गवाहों पर हमले किए तो आसाराम बेहद खुश हो गया। कार्तिक ने जब आसाराम को बताया कि हमला उसने किया था तो वो बेहद खुश हो गए।

कार्तिक से उन्होंने कहा तुम्हें क्या चाहिए तो कार्तिक ने कहा वो शादी करना चाहता है। कार्तिक के मुताबिक इसको सुनने के बाद आसाराम ने कहा कि सामने बैठी हुई किसी भी साधिका को चुन लो। उसके बाद कार्तिक ने एक साधिका को पसंद किया और उसके साथ उसकी शादी करवा दी गई। कार्तिक का दावा है कि उसको मनचाही पत्नी मिलने के बाद उसने आसाराम केस के गवाहों को मारने का प्लान बनाया।

पुलिस पूछताछ में उसने माना कि राजकोट में अमृत प्रजापति को मारने से पहले वो अखिल गुप्ता और कृपाल सिंह की हत्याएं कर चुका था। गुजरात पुलिस का दावा है की कार्तिक एक बार जोधपुर जेल में भी आसाराम से मिला था। ऐसे में सवाल यह उठता है की आसाराम केस में गवाहों की हत्या की जानकारी आसाराम को थी। अब पुलिस इस बारे में तफ्तीश कर रही है।