इलाज कराने के लिए दिल्ली पहुंचेंगे आसाराम

नई दिल्ली (18 सितंबर): जोधपुर जेल में बंद आसाराम को इलाज के लिए दिल्ली के एम्स लाया जा रहा है। वे दोपहर डेढ़ बजे जोधपुर से एअर इंडिया के प्लेन से दिल्ली के लिए निकलेंगे।

इसको लेकर पुलिस ने चकमा देने के लिए एक प्लान तैयार किया है। जब उन्हें इलाज के लिए हॉस्पिटल लाया जाएगा तो काफिले में एक जैसी 3 से 4 गाड़ियां रखी जाएंगी, जिससे यह पता करना मुश्किल होगा कि वह किस गाड़ी में हैं। इसका मकसद किसी भी तरह के उपद्रव या अप्रिय स्थिति को रोकना है।

आसाराम के लिए बनाया गया है 5 डॉक्टर्स का मेडिकल बोर्ड... - एक सीनियर अफसर ने बताया कि जोधपुर पुलिस की ओर से उन्हें किसी गेस्ट हाउस या किसी सुरक्षित आवास पर अलग से रखने को लेकर भी सलाह मिली है। - 'इसकी वजह यह है कि जोधपुर पुलिस को आशंका है कि जेल मे कोई किसी तरह का नुकसान आसाराम को न पहुंचाए।' - अफसरों के मुताबिक, आसाराम को सोमवार को एम्स के कार्डियो-न्यूरो सेंटर मे दिखाया जाएगा। इसके लिए न्यूरो विभाग के प्रमुख कामेश्वर प्रसाद के अगुआई में एक 5 डॉक्टर्स का एक मेडिकल बोर्ड बनाया गया है। - अफसरों ने बताया कि चैकअप दिन में चलेगा। अगर जरूरी हुआ तो आसाराम को रात में भी हॉस्पिटल में रोका जा सकता है या फिर हॉस्पिटल, जेल एडमिनिस्ट्रेशन से बात करके डॉक्टरों के एक दल को वहां भी भेज सकता है। - अगर एम्स में ही टेस्ट करने का फैसला किया जाता है तो फिर रात के समय भी वहां सिक्युरिटी ज्यादा रहेगी।

आसाराम के रूम में किसी को जाने की इजाजत नहीं... - हॉस्पिटल के जिस रूम में आसाराम रहेंगे वहां पर किसी को जाने की इजाजत नहीं होगी। - तीन दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मी और करीब इतने ही प्राइवेट सुरक्षा गार्ड्स को सोमवार की सुबह ही एम्स में तैनात कर दिया जाएगा। - कुछ पुलिसकर्मियो को सादे कपड़ों में भी तैनात किया जाएगा, जिससे आम लोगों के बीच में ही रहकर वह वहां से होने वाले किसी अप्रिय स्थिति को रोका जा सके।