आसाराम नर्स से बोला- तुम खुद मक्कन जैसी हो तो ब्रेड के साथ बटर की क्या जरुरत

नई दिल्ली(25 सितंबर): नाबालिग स्टूडेंट के सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोपी 80 साल के आसाराम इतना बीमार कि चल तक नहीं पाता। लेकिन सोच कैसी है, यह एम्स की एक नर्स के साथ बातचीत से पता चलता है। 

- एक वेबसाइट के मुताबिक दिल्ली एम्स में मेडिकल जांच कराने तिहाड़ जेल से पहुंचे आसाराम को खड़े रहने के लिए आधा दर्जन पुलिस व मेडिकल स्टाफ का सहारा लेना पड़ रहा था। जांच से पहले डॉक्टरों ने नाश्ता कराने को कहा तो एक नर्स बटर और ब्रेड ले आई। 

- आसाराम उसे देखते ही बोल पड़ा- तुम तो खुद मक्खन जैसी हो, ब्रेड के साथ मक्खन लाने की क्या जरूरत है? तुम्हारे गाल भी सेब जैसे लाल हैं। तुम कश्मीर की होगी। तभी तुम्हारे गाल वहां के सेब-टमाटर जैसे हैं।

- आसाराम से यह सब सुनते ही नर्स झेंप गई। आसाराम यहीं नहीं रुका। डॉक्टरों से कहा कि मैं तो बीमारी से 80 साल का हो गया हूं। 

- बुढ़ापा आ गया है। डॉक्टर साहब! मेरा इलाज कर दो, इतनी जांचें कर ली, अब तो मुझे पहले जैसा जवान बना दो। 

- आसाराम की जांच कराने साथ गए अधिकारियों ने बताया कि आसाराम बार-बार उन्हें वीडियोग्राफी से भी रोक रहा था। 

- उसका कहना था कि तुम वीडियो बनाकर मुझे क्यों टॉर्चर कर रहे हो।