अयोध्या विवाद: औवेसी का RSS पर हमला, 'क्या पता है कि कोर्ट का फैसला उनके पक्ष में आएगा'

नई दिल्ली ( 29 जनवरी ): एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर निशाना साधा है। ओवैसी ने कहा कि जब यह मामला (राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद) अभी सुप्रीम कोर्ट में है तो फिर आरएसएस ने पहले ही इस बात की घोषणा कैसे कर दी है कि 17 अक्टूबर 2018 से राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा। 

ओवैसी ने सवाल उठाया कि आखिर आरएसएस को इतना यकीन कैसे है कि फैसला उनके पक्ष में आएगा? साथ ही ओवैसी ने बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी पर बाबरी ढांचा ढहाये जाने के मामले में चल रहे आपराधिक साजिश के मुकदमे पर भी सवाल उठाया है। ओवैसी ने कहा, 'मुझे लखनऊ से इस मामले को लेकर कई तरह की जानकारियां मिली हैं। मुझे पता चला है कि आडवाणी और जोशी पर चल रहे इस आपराधिक मामले में अभी तक कोई गवाह आगे नहीं आया है। जो सामने भी आए वे बदल गए।' 

बता दें कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने पिछले दिनों एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि राम जन्मभूमि पर सिर्फ राम मंदिर ही बनेगा। भागवत ने यह भी कहा था कि राम मंदिर के ऊपर एक भगवा झंडा बहुत जल्द लहराएगा। उन्होंने दावा किया था कि राम जन्मभूमि स्थल पर कोई दूसरा ढांचा नहीं बनाया जा सकता। उधर, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विश्व हिंदू परिषद ने कहा है कि अक्टूबर 2018 से राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।