केजरीवाल ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी, जानिए क्या कहा?

नई दिल्ली (3 अप्रैल): दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक चिट्ठी लिखी है। जिसमें उन्होंने आईडीबीआई बैंक अधिकारियों की मांग पर बैंक का निजीकरण रोकने की मांग की है। 

मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक, इस पत्र में केजरीवाल ने निजीकरण का विरोध किया है। मुख्यमंत्री का मानना है कि केंद्र सरकार को इसे पब्लिक सेक्टर में ही रहने देना चाहिए। केजरीवाल का कहना है, "आईडीबीआई का निजीकरण करने का कारण यह बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार उसके शेयर बेचकर पैसा कमाना चाहती है। अगर इस मंशा से बैंक को बेचा जा रहा है तो यह बहुत गलत है।"

सीएम केजरीवाल ने कहा कि इससे बड़ी दुर्भाग्य की बात और क्या हो सकती है, कि सरकार विजय माल्या जैसे लोगों से सख्ती करके कर्ज वसूलने की बजाए उन्हें देश से भाग जाने देती है। सरकार इनसे पैसा वसूलने के बजाए एक तरफ बैंकों को इनसे पैसा वसूलने से रोकती है। दूसरी तरफ बैंकों के शेयर बेचकर उनका निजीकरण करना चाहती है। केजरीवाल ने कहा कि सरकार निजीकरण के इस प्रस्ताव को वापस ले, जिससे देशभर के बीस हजार कर्मचारियों पर बुरा असर पडऩे वाला है।