राष्ट्रपति से मिले केजरीवाल, कहा- अब तक क्यों नहीं पकड़े गए नारे लगाने वाले?

नई दिल्ली (18 फरवरी):  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की और केंद्र सरकार पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि जो लोग जेएनयू के भीतर भारत विरोधी नारे लगाने वालों को नहीं पकड़ पाए, वो पठानकोट के हमलावरों को क्या पकड़ेंगे? 

उन्होंने कहा कि आज कानून का राज़ खत्म हो चुका है। जो भी चाहे पाक के समर्थन में नारे लगाने वालों को सरेआम पीट सकता है। जेएनयू की घटना पर दिल्ली के सीएम ने कहा कि देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई का हम समर्थन करते हैं। 

सीएम ने कहा कि पटिलाया हाउस में जो कुछ हुआ, पुलिस ने कुछ नहीं किया। पुलिस को उसके आका ने कहा कि कुछ नहीं करो। कल केंद्र सरकार ने कोर्ट को खुली चुनौती दी है कि हम जो करना चाहेंगे करेंगे, तुम कुछ नहीं कर सकते।

केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी विधायक ओपी शर्मा खुलेआम क्यों घूम रहे हैं। आज सुबह से कपिल को मार डालने की धमकी आ रही है। फोन कॉल आ रहे हैं। हम उन्हें कहना चाहते हैं कि धमकियों से डरते नहीं हम। केंद्र सरकार को कहना चाहता हूं कि अभी स्थिति बिगड़ी नहीं है संभाल लीजिए।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राष्ट्रपति से राजधानी की कानून व्यवस्था को लेकर भी अपनी बात रखी। बता दें कि बुधवार को केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था कि दिल्ली पुलिस हमारे पास होती तो भारत मां के खिलाफ नारे लगाने वाले और फर्जी राष्ट्रवादी गुंडे-दोनों जेल में होते। इनसे दोनों नहीं संभल रहे।