केजरीवाल ने खड़से को बताया देशद्रोही, हार्दिक पटेल का किया समर्थन

नई दिल्ली(5 जून): दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से को देशद्रोही करार दिया है। केजरीवाल ने पाटीदार नेता हार्दिक पटेल का समर्थन किया जो राजद्रोह के आरोपों में जेल में बंद हैं। 

केजरीवाल ने कहा कि मुझसे गुजरात के कई लोग मिलने आए थे। हार्दिक पटेल पिछले 8 महीने से जेल में है और उसके ऊपर देशद्रोह के मुक़दमे चल रहे हैं। और इन लोगों ने बताया की इस बात को लेकर यह दुखी हैं। आखिर हार्दिक पटेल का दोष क्या है?

केजरीवाल ने कहा कि हार्दिक ने गुजरातियों के लिए, अपने समाज के लिए आवाज़ उठाई। उन्होंने कभी अपने देश के खिलाफ आवाज़ नहीं उठाई। हार्दिक पटेल ने कभी देश को तोड़ने वाली ताकतों का साथ नहीं दिया। अभी हम देख रहे है कि महाराष्ट्र के एक मंत्री हैं खड़से साहब, उनका एक रिकॉर्ड निकल के आया कि वो दाऊद इब्राहिम से बातचीत करते हैं। देशद्रोही तो खड़से साहब हुए ना, उनके खिलाफ सरकार कोई एक्शन नहीं लेती और हार्दिक पटेल के खिलाफ एक्शन लेती है। हार्दिक पटेल देशद्रोही कैसे हुआ। हार्दिक पटेल की बात से आप असहमत हो सकते हैं, लेकिन यह देशद्रोह नहीं है। देशद्रोही खड़से जैसे नेता हैं। हार्दिक पटेल जो बात कह रहा था उसको लाखों गुजराती भी कह रहे थे, तो क्या लाखों गुजराती देशद्रोही हो गए? तो एकदम से गुजरात के लोगों को देशद्रोही करार दे देना और उनका अपमान करना सही नहीं है।

केजरीवाल ने कहा कि भाजपा के लिए असली परीक्षा तब होगी जब मध्य प्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्रियों शिवराज सिंह चौहान और वसुंधरा राजे भी इस्तीफा दे दें।