'सरकार के गलत कामों की आलोचना न करना भी देशद्रोह'

नई दिल्ली (5 मार्च): जाने माने पत्रकार, लेखक और अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी ने कहा है कि सरकार के ग़लत कामों की आलोचना न करना भी देशद्रोह है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अरुण शौरी जयपुर में हिंदी अख़बार पत्रिका के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। जहां उन्होंने ये टिप्पणी की है। शौरी ने कहा, "देशद्रोह क्या है, ये सरकार हो या वो सरकार हो। कोई भी सरकार हो नागरिकों की ज़िम्मेदारी ये सुनिश्चित करना है कि सरकार चुस्त-दुरुस्त बनी रहे। तारीफ़ की ज़रूरत हो तारीफ़ करो, आलोचना की ज़रूरत हो आलोचना करो।"

शौरी ने कहा, "अगर सरकार कुछ ग़लत कर रही है और आप उसकी आलोचना नहीं कर रहे हैं तो आप देश को शर्मिंदा कर रहे हैं।" उन्होंने कहा, "डर से या लोभ से चुप रहना भी देशद्रोह है।"