देखिए, इस तरह बनाई गई पूरे 'ब्रह्मांड' की ये अनोखी तस्वीर...

नई दिल्ली (6 जनवरी): एक कलाकार ने लॉगरिदमिक मैप्स और सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों की सहायता से ब्रह्णांड की एक ऐसी कलाकृति बनाई है, जो पूरी दुनिया में अनोखी है।

'मेलऑनलाइन' की रिपोर्ट के मुताबिक, पैब्लो कार्लोस बुदासी नाम के कलाकार ने पूरे ब्रह्मांड को एक रंगीन तस्वीर में ही सीमित कर दिया है। इस तस्वीर में सूर्य से लेकर एंड्रोमेटा गैलेक्सी से लेकर प्लाज्मा को दर्शाया है। ये सारी संरचनाएं अरबों साल पहले हुए 'बिग बैंग' के बाद पीछे छूट गई थीं। 

यह डिजाइन प्रिंसटन यूनिवर्सिटी की तरफ से जुटाए गए लॉगरिदमिक मैप्स और टेलीस्कोप और सैटेलाइट्स के जरिए ली गई नासा की तस्वीरों पर आधारित है। लॉगरिदमिक मैप्स हमें विस्तृत इलाकों की कल्पना करने में मदद करते हैं, क्योंकि एक्सेस पर हर स्टेप 10 के फैक्टर से आगे बढ़ता है। इस तस्वीर के केंद्र में चमकता हुआ एक सूर्य है। इसके बाद हमारे सौर मंडल के हर ग्रह को दिखाया गया है।

बुदासी ने मिल्की वे, क्विपर बेल्ट, ओर्ट क्लाउड, एल्फा सेंचुअरी स्टार, पर्सियस आर्म और दूसरी पास की गैलेक्सीस, और बिग बैंग के बाद हुए कॉस्मिक माइक्रोवेव रेडिएशन को भी दिखाया है। इसके अंत में बिग बैंग से पैदा हुए प्लाज्मा रिंग को भी दिखाया गया है। बुदासी ने एक ईमेल के जरिए बताया, ''तब जब मैं अपने बेटे के बर्थडे सुवेनियर्स के लिए हैक्साप्लैक्सेगॉन्स चित्रित कर रहा था। मैंने कॉस्मॉस और सोलर सिस्टम पर नजरिए को भी बनाना शुरू कर दिया। उसी दिन लॉगरिदमिक व्यू का विचार भी आया। फिर अगले दिनों में मैं इन्हें फोटोशॉप पर नासा की तस्वीरों और कुछ अपने टेक्सचर्स के जरिए बनाना शुरू कर दिया।''

प्रिंसटन यूनिवर्सिटी के रीसर्चर्स ने स्लोअन डिजिटल स्काई सर्वे (एसडीएसएस) के डेटा के आधार पर अपने मैप्स बनाए थे। जिसके लिए न्यू मैक्सिको के एपैशे प्वाइंट के 2.5 मीटर लंबे, वाइड एंगल ऑप्टिकल टेलीस्कोप का इस्तेमाल किया गया। इनके विस्तृत थ्री डाइमेंशनल मैप्स में 30 लाख एस्ट्रोनॉमिकल ऑब्जेक्ट्स को शामिल किया गया था। साइंस अलर्ट में छपे एक आर्टिकिल में इसकी जानकारी दी गई है।