पाक उच्चायोग से गायब हुए 23 सिख यात्रियों के पासपोर्ट

Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 दिसंबर): भारत के खिलाफा हमेशा नापाक इरादे रखने वाले पाकिस्तान के उच्चायोग से तकरीबन 23 भारतीयों के पासपोर्ट गायब होने की खबर आ रही है। दरअसल, ये सभी पासपोर्ट उन सिख तीर्थयात्रियों का है, जो पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारों में यात्रा करने के लिए जाने जाने वाले थे। जिनमें से एक करतारपुर साहिब भी है। बता दें कि यह मामला विदेश मंत्रालय के सामने आने के बाद इन 23 में से कई लोगों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विदेश मंत्रालय अब इन सभी पासपोर्ट्स को रद्द करने की तैयारी में जुट गया है। इस पूरे मामले को लेकर पाक उच्चायोग के समक्ष भी पेश किया जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान की ओर से 21 से 30 नवंबर के बीच 3,800 सिख तीर्थयात्रियों को वीजा दिया था। गुरु नानक की 549वीं जयंती के मौके पर यह वीजा जारी किए गए थे।


खबरों के मुताबिक पासपोर्ट खोने की शिकायत करने वाले ये सभी 23 यात्री भी उन 3800 यात्रियों में शामिल थे, जिन्हें पाकिस्तान की ओर से वीजा जारी किया गया है। पाकिस्तान ने इन पासपोर्टों के गुम होने पर में अपने किसी अधिकारी के शामिल होने की बात को सिरे से खारिज कर दिया है। ये सभी पासपोर्ट दिल्ली स्थित एक एजेंट ने लिए थे, जिसका दावा है कि उसने पाकिस्तानी उच्चायोग में इन दस्तावेजों को जमा कराया है।


भारतीय अथॉरिटीज को इस मसले के बारे में तब जानकारी दी, जब पाकिस्तानी उच्चायोग ने उससे 23 पासपोर्ट्स की मौजूदगी से ही इनकार कर दिया। एक आधिकारिक सूत्र ने बताया, 'यह एक गंभीर मुद्दा है और हम इन पासपोर्ट्स के बेजा इस्तेमाल को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने में जुटे हैं। गौरतलब है कि अभी कुछ दिन पहले ही भारत और पाकिस्तान ने एक दूसरे की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाते हुए करतार पुर काॅरिडोर का शिलन्यास किया था।