आतंक के मुंह पर करारा तमाचा, जम्मू-कश्मीर के 11 युवक बने भारतीय सेना में अधिकारी

नई दिल्ली (11 जून ): कश्मीर में आतंकवादियों को करारा जवाब मिला है। जम्मू-कश्मीर के 11 युवक भारतीय सेना में अधिकरी बने हैं। इन सभी युवकों ने इंडियन मिलिटरी अकैडमी से स्नातक किया है। अगर आज शहीद लेफ्टिनेंट उमर फयाज होते तो युवाओं को भारतीय सेना में शामिल देखकर वह बहुत खुश होते। जम्मू-कश्मीर के 11 युवा भारतीय सेना में शामिल हुए हैं।

आपको बता दें कि 2016 में सेना में शामिल हुए 23 वर्षीय फयाज को जम्मू एवं कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों ने अगवा कर उनकी हत्या कर दी थी। फयाज बातापुरा में अपने एक रिश्तेदार की शादी में शरीक होने गए थे, जहां से आतंकियों ने उनका अपहरण कर लिया था।

मध्य प्रदेश से 13 युवा सेना में अधिकारी बने हैं। केरल और पंजाब के 17 युवा, पश्चिमी बंगाल और कनार्टक राज्य से 11-11 युवक सेना में अधिकारी बन गए हैं। उत्तर प्रदेश के 74 युवा सेना में अधिकारी बने हैं। हरियाणा से 49 युवा सेना के अफसर बने हैं, जबकि उत्तराखंड के 40 युवा सैन्य अफसर बने हैं। राजस्थान के 30, बिहार के 28, महाराष्ट्र के 24, दिल्ली के 23 युवाओं को सेना में बतौर अफसर शामिल किया गया है।  भारतीय सेना को हिमाचल ने 21 सैन्य अधिकारी दिए हैं।