टोल प्लाजा से सेना हटी लेकिन ममता सचिवालय में डटीं

नई दिल्ली (2 दिसंबर): मुख्यमंत्री ममत बनर्जी की मांग पर राज्य सचिवालय 'नबन्ना' के पास स्थित टोल प्लाजा से आर्मी को हटा लिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक  गुरुवार देर रात जहुगली नदी पर बने दूसरे पुल पर स्थित टोल प्लाजा पर आर्मी का एक भी जवान नहीं था । यहां तक कि आर्मी का टेंपररी शेड भी हटाया जा चुका था। वहीं, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खबर लिखने तक सचिवालय में ही डेरा जमायी हुई थीं।

ममता ने यह आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार को सूचित किए बगैर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो पर पलसित और दनकुनी के दो टोल प्लाजा पर सेना तैनात की गई है जो ‘गंभीर मुद्दा है।’ उन्होंने राज्य सचिवालय में ही डेरा डाल दिया था।