ये जांबाज मौत पर विजय हासिल कर बना सेना का अफसर

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जून): कहा जाता है कि जिसके हौसले बुलंद होते हैं दुनियां की कोई भी ताकत उसे उसकी मंजिल तक पुहंचने से नहीं रोक सकती। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है आईएमए के जवान राजशेखर ने।आपको बात दें राजशेखर मल्टी ऑर्गन फेल्योर से झूझ रहे हैं। उनकी हालत में सुधार तो हुआ है, लेकिन अभी भी उनका मेडिकल ट्रीटमेंट जारी है। ऐसे में उन्होंने मौत को मात देते हुए शनिवार को पासिंग आउट परेड में हिस्सा लिया और अपना पास होकर अपना सपना साकार कर दिखाया। इसके लिए उन्हें ‘बेस्ट मोटिवेशनल कैडेट’ अवार्ड भी मिला।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक दिन वह दौड़ लगाते हुए अचानक बेहोश होकर गिर गए। उन्हें दून के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया। पता चला कि उन्हें मल्टी ऑर्गन फेल्योर हो गया है।19 दिन तक जीसी राजशेखर आईसीयू में जिंदगी और मौत के बीच जूझते रहे। परिजन उनकी कुशलता की प्रार्थना करते रहे जबकि उनकी बटालियन के अधिकारी उनका हौसला बढ़ाते रहे।आखिरकार 19 दिन की जंग में राजशेखर की जीत हुई। इसके बाद उन्होंने मेहनत की और इस साल पासिंग आउट परेड में सबके साथ कदमताल किया। आईएमए से पासआउट होने का उनका सपना पूरा हो गया।