शहीद हनुमंथप्पा की पत्नी की हरसंभव मदद करेगी सेना

नई दिल्ली(22 फरवरी): सेना ने कहा है कि सियाचिन के वीर शहीद लांस नायक हनुमंथप्पा की पत्नी को अगर नौकरी की जरूरत हो, उनकी पर्याप्त मदद की जाएगी।

-  गौरतलब है कि सोशल मीडिया और कुछ पोर्टल पर मंगलवार को इस तरह की रिपोर्ट्स आ रही थीं कि हनुमंथप्पा की पत्नी ने सम्मानजनक जिंदगी जी सकने लायक नौकरी की मांग की है। इन रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने यह भी कहा है कि जरूरत पड़े तो मैं फर्श भी साफ कर सकती हूं।

- सेना ने कहा है कि हनुमंथप्पा के परिवार को सभी लाभ दिए गए हैं। वित्तीय रूप से यह 70 लाख रुपये से ज्यादा की रकम है। लिबरल पेंशन दी जा रही है, जिसका मतलब फुल सैलरी है। हर तरह की मदद दी जा रही है और हम परिवार के संपर्क में हैं। सोशल मीडिया या मीडिया के जरिये नौकरी की जो मांग आई है, वह नया पहलू है।

- सियाचिन में पिछले साल हिमस्खलन के कारण बर्फ के नीचे दबने के बाद भी 6 दिन तक जिंदगी के लिए संघर्ष करने वाले हनुमंथप्पा शहीद हो गए थे। उनकी उम्र 33 साल थी। उनको सेना मेडल से सम्मानित किया गया था। सेना प्रमुख बिपिन रावत ने उनकी पत्नी को हाल में मेडल दिया था।