सीमा पर चीन के साथ तनातनी, सेना प्रमुख बिपिन रावत कल जाएंगे सिक्किम

नई दिल्ली ( 28 जून ): भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत गुरुवार को सिक्किम जाएंगे। हालांकि यह यात्रा पहले से तय थी, लेकिन सिक्किम में चीन से चल रहे विवाद के बाद यह यात्रा काफी महत्वपूर्ण हो गई है। सेना प्रमुख कमांडरों से मुलाकात करेंगे। खबर है कि चीन भूटान से सटे इलाके में सड़क बना रहा है जिसका भारत विरोध कर रहा है। दोनों देशों के बीच विवाद का यह अहम कारण है।


वह सीमावर्ती राज्य में सेना के संचालन मामलों का जायजा लेंगे और शीर्ष कमांडरों से बातचीत करेंगे। उनके दो दिवसीय दौरे को डोंगलांग में भारत और चीन की सेना के बीच झड़प से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि सरकारी सूत्रों ने इसे सामान्य दौरा बताया है।


पिछले 15-20 दिनों से सिक्किम के डोकाला दर्रे में भारत और चीन के सैनिकों के बीच तनातनी चल रही है। इसी की वजह से ही नाथूला पास से होकर कैलाश मानसरोवर जाने वाले तीर्थयात्री नहीं जा पा रहे हैं। चीन ने एक भी तीर्थयात्री को इस रास्ते से होकर नहीं जाने दिया है।


हालात यह हैं कि जब तक दोनों देशों के बीच यह मामला नहीं सुलझता तब तक इस रास्ते से कोई यात्री कैलाश मानसरोवर तो नहीं ही जा पाएगा।


वैसे खबर यह है कि चीन यहां भूटान से सटे इलाके में सड़क बना रहा है। भारत इसका विरोध कर रहा है क्योंकि अगर यह सड़क बनी तो चीन सिलीगुड़ी (चिकन-नैक) के बेहद करीब आ जाएगा, जो सामरिक तौर से भारत के लिए एक बड़ा खतरा है।